Breaking News

ओमीक्रोन वेरिएंट से जूझ रहे अफ्रीकी देशों की मदद के लिए भारत ने बढ़ाया हाथ, क्रिकेटर पीटरसन ने कहा- सबसे शानदार देश

कोरोना वायरस के नए वेरिएंट ‘ओमीक्रोन’ से जूझ रहे अफ्रीकी देशों की मदद के लिए भारत ने की घोषणा की। भारतीय विदेश मंत्रालय ने सोमवार को एक प्रेस रिलीज जारी कर यह ऐलान किया है भारत सरकार उन सभी अफ्रीकी देशों की मदद के लिए तैयार खड़ी है जो इस समय ओमीक्रोन वेरिएंट से लड़ रहे हैं, इसमें मेड इन इंडिया वैक्सीन की सप्लाई भी शामिल है।” इस ऐलान के बाद इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व क्रिकेटर केविन पीटरसन ने भारत और प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को शुक्रिय कहा है।

भारतीय विदेश मंत्रालय ने कहा- भारत सरकार ओमीक्रोन वेरिएंट से लड़ रहे सभी अफ्रीकी देशों के साथ खड़ी है।

प्रेस रिलीज में विदेश मंत्रालय ने कहा कि भारत सरकार अफ्रीकी देशों में मेड इन इंडिया वैक्सीन, जरूरी दवाइयां, टेस्ट किट, पीपीई किट्स और वेंटिलेटर सहित दूसरे मेडिकल सामान सप्लाई करने को तैयार है। मंत्रालय ने कहा ये सप्लाई कोवैक्स के जरिए या द्विपक्षीय तरीके से की जा सकती हैं।

सरकार ने अफ्रीकी देशों मालावी, इथोपिया, जाम्बिया, मोजांबिक, गिनिया और लेसोथो को कोविशील्ड वैक्सीन पहुंचाने के लिए कोवैक्स द्वारा किए गए सभी ऑर्डर को मंजूरी दे दी है। भारत के इस ऐलान को पढ़ने के बाद पूर्व दिग्गज बल्लेबाज केविन पीटरसन ने ट्वीट कर कहा भारत ने एक बार फिर वो संवेदना दिखाई। सबसे शानदार देश जहां तमाम नरम दिल लोग रहते हैं। शुक्रिया। नरेंद्र मोदी।” बेशक केविन पीटरसन ने इंग्लैंड के लिए क्रिकेट खेला लेकिन मूल रूप से वो दक्षिण अफ्रीका के हैं। पीटरसन खुद भी तमाम सामाजिक कार्यों में अपना योगदान देते रहते हैं।

41 देशों को मेड इन इंडिया टीकों की हो चुकी है आपूर्ति: बता दें कि भारत ने अब तक अफ्रीका के 41 देशों को 2.5 मिलियन से अधिक मेड-इन-इंडिया टीकों की आपूर्ति की है, जिसमें 16 देशों को अनुदान के रूप में लगभग 10 लाख खुराक और 33 देशों को कोवैक्स सुविधा के तहत 1.6 मिलियन से अधिक खुराक शामिल हैं।

शाश्वत तिवारी
  शाश्वत तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

अमेरिका: प्रेस कॉन्फ्रेंस में जब पत्रकार ने राष्ट्रपति से किया महंगाई पर सवाल तो बाइडन ने कह दी ऐसी अभद्र बातें

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *