Breaking News

किम जोंग उन ने खाई खतरनाक कसम, दिए ये करने के संकेत

 दुनिया को अक्सर परमाणु हमले (Nuclear War) की धमकी देने वाले उत्तर कोरिया (North Korea) के तानाशाह किम जोंग उन (Kim Jong Un) ने New Year 2023 पर एक ऐसी खतरनाक कसम खाई है जिसमें उन्होंने कुछ खतरनाक काम (Dangerous Work) करने के संकेत दिए हैं. वैश्विक कूटनीति के जानकार इसे किम जोंग उन की खतरनाक विश लिस्ट 2023 बता रहे हैं, जिसने दुनिया को दहशत में डाल दिया है. दरअसल उत्तर कोरिया ने अब तक जितनी मिसाइलें दागी हैं, उसकी एक चौथाई तो सिर्फ 2022 में दागी गई हैं.

इस साल किम ने ये एलान किया कि उत्तर कोरिया एक परमाणु शक्ति संपन्न देश बन चुका है इसलिए उसके न्यूक्लियर वेपंस अब हमेशा के लिए बने रहेंगे. साल 2022 में किम ने अपने हथियारों को नए लेवल तक पहुंचाया. इसकी शुरुआत उसने शॉर्ट रेंज मिसाइलों को अपग्रेड करने के साथ की जो उसने दक्षिण कोरिया को ध्यान में रखकर बनाई थीं. फिर उसने जापान को टारगेट करते हुए मध्यम दूरी की मिसाइलों को एडवांस बनाया. 2022 के आखिर में उत्तर कोरिया ने अपनी अब तक की सबसे ताकतवर इंटरकॉन्टिनेंटल बैलिस्टिक मिसाइल (आईसीबीएम) का कामयाबी से परीक्षण कर लिया. इस ‘ह्वासॉन्ग 17’ नाम की इस बैलिस्टिक मिसाइल के बारे में कहा जाता है कि ये अमेरिका के किसी भी ठिकानों को टारगेट बना सकता है.

वैश्विक चिंता की बात ये है कि परमाणु हथियारों के इस्तेमाल को लेकर किम जोंग उन ने अपनी पॉलिसी बदल दी है. किम ने कहा है कि एक परमाणु शक्ति संपन्न देश होने के बाद नॉर्थ कोरिया की इस स्थिति को बदला नहीं जा सकता है. यानी किम ने साफ कर दिया है कि वो अपने परमाणु हथियार खत्म करने के बजाए उनकी संख्या और बढ़ा सकता है. दरअसल तानाशाह ये ऐलान भी कर चुका है कि ये परमाणु हथियार युद्ध रोकने के लिए नहीं बल्कि इस्तेमाल करने और युद्ध जीतने के लिए बनाए गए हैं. किम की विश लिस्ट (2023) में मौजूद चीजों की प्राथमिकताओं की बात करें तो सूची में परमाणु हथियारों के उत्पादन में व्यापक स्तर पर वृद्धि की योजना शामिल है.

किम जोंग उन ने कहा कि इसमें छोटे और टैक्टिकल न्यूक्लियर हथियारों का बड़े पैमाने पर उत्पादन शामिल है जिनका इस्तेमाल साउथ कोरिया के खिलाफ किया जा सकता है. टैक्टिकल न्यूक्लियर हथियार बनाने के लिए उत्तर कोरिया को पहले छोटे परमाणु बम बनाने होंगे जिन्हें छोटी मिसाइलों में फिट किया जा सके.

किम जोंग उन के न्यू इयर रेज्योल्युशन 2023 में एक स्पाई सैटेलाइट भी शामिल है. किम ने दावा किया है कि अगले 3 महीने में उत्तर कोरिया अपने स्पाई सैटेलाइट को अंतरिक्ष की कक्षा में स्थापित कर देगा. इसी लिस्ट में ठोस ईंधन से लैस और पहले से अधिक ताकतवर ICBM भी शामिल है जो अमेरिका को भी निशाना बना सकते हैं. वहीं साउथ कोरिया के एक्सपर्ट्स का दावा है कि उत्तर कोरिया की नई इंटर कॉन्टिनेंटल बैलेस्टिक मिसाइल पहले वाली से कहीं ज्यादा घातक होगी.

दक्षिण कोरिया ने हाल ही में ये आरोप लगाया था कि उत्तर कोरिया ने बीचे 5 सालों में पहली बार उसकी सीमा के पास ड्रोन विमान उड़ाए हैं. ऐसे में कोरियाई प्रायद्वीप अस्थिरता जिस तरह से अस्थिरता की ओर बढ़ रहा है, उसने आस-पास के क्षेत्रों की शांति पर असर पड़ सकता है

About News Room lko

Check Also

जेनिन कैंप में भड़की हिंसा 9 लोगों की मौत कई घायल, इजरायल ने दागे आंसू गैस के गोले

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें फिलिस्तीन के जेनिन कैंप में गुरुवार को भड़की ...