Breaking News

ISRO में 10वीं पास के लिए नौकरी पाने का तरीका और सैलरी , जानिये इस लेख में

हर कोई भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) में काम करने का सपना देखता है। सरकारी नौकरी के इस मान्यता पर बहुत से युवा लगातार प्रयास कर रहे हैं। ISRO में कई डिपार्टमेंट हैं, और उन डिपार्टमेंट में अलग-अलग पदों पर बहाली होती रहती है।

इस ब्लॉग पोस्ट में, हम आपको ISRO में 10वीं पास के लिए नौकरी पाने के बारे में सभी महत्वपूर्ण जानकारी देंगे, जिसमें सैलरी स्ट्रक्चर और करियर ग्रोथ के बारे में भी चर्चा की जाएगी।

ISRO में पदनाम और सैलरी:

1. तकनीशियन ‘बी’ (लेवल 3):

पे लेवल: लेवल 3
वेतन मैट्रिक्स: ₹21,700 से ₹69,100
2. ड्राफ्ट्समैन ‘बी’ (लेवल 3):

पे लेवल: लेवल 3
वेतन मैट्रिक्स: ₹21,700 से ₹69,100
3. भारी वाहन चालक ‘ए’ (लेवल 2):

पे लेवल: लेवल 2
वेतन मैट्रिक्स: ₹19,900 से ₹63,200
4. हल्के वाहन चालक ‘ए’ (लेवल 2):

पे लेवल: लेवल 2
वेतन मैट्रिक्स: ₹19,900 से ₹63,200
10वीं पास के उम्मीदवारों के लिए ISRO में बहाली:

ISRO में 10वीं पास के उम्मीदवारों के लिए विभिन्न पदों पर बहाली होती है, जैसे कि ड्राइवर, कुक, कैटरिंग अटेंडेंट, फायरमैन, आदि। इसके लिए उम्मीदवारों को किसी भी मान्यता प्राप्त संस्थान या बोर्ड से 10वीं पास होना चाहिए। ड्राइवर के पदों के लिए उम्मीदवारों के पास भारी वाहन चलाने का कम से कम 5 साल और हल्के वाहन चलाने का 3 साल का अनुभव होना चाहिए। वहीं, कुक पदों के लिए किसी भी अच्छे होटल या कैंटीन में काम करने का 5 सालों का अनुभव होना चाहिए।

ISRO में 10वीं पास की नौकरी के लाभ:

इन पदों पर नौकरी पाने वाले उम्मीदवारों को नीचे दिए गए लाभ मुहैया कराए जाते हैं:

स्वयं और आश्रितों के लिए चिकित्सा सुविधाएं
रियायती कैंटीन
एडवांस्ड हाउस बिल्डिंग
लीव ट्रैवल कंसेशन
नेशनल पेंशन सिस्टम
ISRO में नौकरी पाने का प्रक्रिया:

ISRO में इन पदों पर नौकरी पाने के लिए उम्मीदवारों को 90 मिनट की अवधि वाली लिखित परीक्षा को पास करनी होगी। परीक्षा में 80 बहुविकल्पीय प्रश्न होंगे, जिनके लिए सही उत्तर के लिए अंक मिलेंगे, लेकिन गलत उत्तर के लिए 0.33 अंक की नेगेटिव मार्किंग होगी।

लिखित परीक्षा में अच्छे प्रदर्शन करने वाले उम्मीदवारों को स्किल टेस्ट के लिए शॉर्टलिस्ट किया जाएगा, और उनमें से अंकों के क्रम में चयन पैनल तैयार किया जाएगा। अंत में, फाइनल चयन पर विचार किया जाएगा।

ISRO में करियर ग्रोथ और प्रमोशन:

ISRO में तकनीशियन और ड्राफ्ट्समैन के लिए करियर ग्रोथ मेरिट प्रमोशन स्कीम पर आधारित होती है। कर्मचारियों की समीक्षा के बाद उन्हें उनकी योग्यता के आधार पर अगले ग्रेड के लिए प्रमोट किया जाता है।

About News Desk (P)

Check Also

30 मई को चुनाव प्रचार खत्म होने के बाद कन्याकुमारी जाएंगे पीएम मोदी, रॉक मेमोरियल में लगाएंगे ध्यान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 30 मई को लोकसभा चुनाव प्रचार के समाप्त होने के बाद कन्याकुमारी ...