Breaking News

क्या राजनाथ होंगे यूपी के नाथ!

लखनऊ. केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह के निजी स्टाफ द्वारा मुख्यमंत्री आवास 5 कालिदास मार्ग का मुआयना करना इस बात के संकेत दे रहे हैं कि कहीं राजनाथ सिंह ही उत्तर प्रदेश के नये मुख्यमंत्री तो नही!

पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के करीबी अधिकारी और सचिव आमोद कुमार के साथ आज राजनाथ सिंह के स्टाफ ने जिस तरह से मुख्यमंत्री आवास की व्यवस्थाओं का मुआयना किया वो इस बात को और ज्यादा बल दे रहे हैं। राजनाथ सिंह जब यूपी के मुख्यमंत्री थे तब भी आमोद कुमार बतौर विशेष सचिव मुख्यमंत्री सचिवालय में तैनात थे। राजनाथ सिंह के अनुभव को देखते हुए संघ भी यही चाहता है कि यूपी की बागडोर उन्ही को सौंपी जाये,जिससे 2019 का रास्ता और प्रशस्त हो जाये।

2017 के चुनाव में भारतीय जनता पार्टी को मिले प्रचंड बहुमत के बाद आरएसएस चाहता है कि इस बड़ी उपलब्धि को देखते हुए ऐसे तजुर्बेकार व्यक्ति को यूपी का मुख्यमंत्री बनाया जाये जिसका नाम भी बड़ा हो और सरकार चलाने का अनुभव भी उसके पास हो। इन शर्तों पर राजनाथ सिंह खरे उतरते हैं।

सूत्र बता रहे हैं कि प्रधानमन्त्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह राजनाथ सिंह के नाम पर सहमत नहीं दिख रहे हैं,लेकिन आरएसएस ने राजनाथ सिंह पर ही भरोसा जताया और उन्हीं को मुख्यमंत्री बनाने की बात पर टिका हुआ है। आरएसएस से हरी झंडी मिलने के बाद ही केन्द्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह का निजी स्टाफ मुख्यमंत्री के 5 कालीदास मार्ग स्थित सरकारी आवास का मुआयना करने लखनऊ पहुंचा। कार्यवाहक मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने कल ही 5 कालीदास मार्ग स्थित सरकारी आवास को खाली कर दिया था। उन्होंने पूर्व मुख्यमंत्री के तौर पर मिले 4 विक्रमादित्य मार्ग पर अपना सारा सामान शिफ्ट करवा लिया है।

राजनाथ की योग्यता:

राजनाथ सिंह 13 साल की उम्र में ही आरएसएस से जुड़ गये थे। वह वर्ष 2000 से 2002 तक उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री भी रह चुके हैं। मौजूदा समय में वह लखनऊ से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के निर्वाचन क्षेत्र से सांसद और केन्द्रीय गृह मंत्री हैं। राजनाथ सिंह भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष भी रह चुके हैं।

यूपी की बारीक़ जानकारी:

राजनाथ सिंह उत्तर प्रदेश की नब्ज़ को बहुत अच्छी तरह से समझते हैं। जिसके लिए उनके पास अच्छा प्रशासनिक अनुभव और अच्छी वाक पटुता है। राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ का उन पर अटूट विश्वास है।

संघ का विश्वास:

संघ चाहता है कि राजनाथ सिंह जैसे तजुर्बेकार शख्स को ही यूपी की बागडोर सौंपी जाये ताकि वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव में बीजेपी और अच्छा प्रदर्शन कर सके।

About Samar Saleel

Check Also

मेलिंडा फ्रेंच गेट्स ने किया विधानसभा दौरा, यूपी के मंत्रियों के साथ हुई बैठक

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के लखनऊ (Lucknow) में ...