Breaking News

बिधूना में विधिक साक्षरता शिविर का हुआ आयोजन, लोक अदालत के बारे में दी गयी जानकारी, सुलह-समझौता केन्द्र के बताए गये लाभ

बिधूना। तहसील क्षेत्र की ग्राम पंचायत महू के ग्राम महू के प्राथमिक विधालय में विधिक सेवा प्राधिकरण के शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें छोटे मोटे वाद विवादों को आपस में मिल बैठकर निपटाने, दाम्पत्य वादों में मध्यस्थता के साथ सुलह-समझौता केन्द्र के लाभ बताए गये। शिविर में लोक अदालत के मामलों की प्रकृति के बारे में जानकारी देने के साथ लोक अदालत के माध्यम से वादों के निस्तारण आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी गयी।

जिला #विधिक सेवा प्राधिकरण अध्यक्ष एवं जिला जज अनिल कुमार वर्मा, सचिव स्वांति चन्द्रा व सिविल जज जूनियर डिवीजन बिधूना वन्दना के निर्देशन एवं तहसीलदार जितेश वर्मा के नेतृत्व में ग्राम महू में आयोजित शिविर में प्राधिकरण द्वारा नि:शुल्क मुहैया कराई जाने वाली कानूनी सहायता के साथ कानून के विविध प्रावधानों की जानकारी दी गयी। इस मौके पर लिंग भेद न किये जाने, घरेलू हिंसा, दहेज, बालश्रम, नशाखोरी आदि सामाजिक बुराइयों से दूर रहने के साथ बेटा बेटियों में भेद न किये जाने को कहा गया। शिविर में कोविड 19 से बचाव के लिये वैक्सीनेशन कराये जाने साफ सफाई रखने के अलावा सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने को कहा गया।

शिविर में वरिष्ठ पीएलवी राघवेन्द्र प्रताप सिंह गौर ने नालसा स्कीम की जानकारी देने के साथ जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के द्वारा गरीब असहाय मजलूमों को निशुल्क दी जानें वाली कानूनी सहायता के बारे में जानकारी दी। साथ ही सुलह समझौता केन्द्र व दाम्पत्य वादों में मध्यस्थता के लाभ बताए। उन्होंने बेटा बेटियों में भेदभाव न किये जाने के साथ बच्चों को शिक्षित संस्कारित बनाये जाने पर बल दिया।

वरिष्ठ पीएलवी देवेन्द्र प्रताप सिंह सेंगर ने लोक अदालत के मामलों की प्रकति के बारे में अवगत कराते हुए राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से मामलों को निस्तारित कराये जाने को कहा। उन्होंने साफ सफाई रखने के साथ अस्वस्थ होने पर प्रशिक्षित चिकित्सक से ही उपचार कराये जाने को कहा। उन्होंने मानसिक रुप से कमजोर, दिव्यांग, थर्ड जेंडर, ट्रांस जेंडर एवं अनुसूचित जाति जनजाति के अधिकारों के बारे में जानकारी दी।

क्षेत्रीय लेखपाल चंद्र प्रकाश ने पराली न जलाने, सार्वजनिक भूमि पर अतिक्रमण न किये जाने को जहां आगाह किया। वहीं वरासत, घरौनी राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना, कृषक दुर्घटना बीमा योजना, दैवी आपदा, मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना आदि योजनाओं की जानकारी दी। उन्होंने ग्रामीणों को धान खरीद के लिए पंजीकरण कराने के साथ प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ न मिल पाने की स्थिति में ब्लाक या तहसील पर आवेदन देकर सुधार कराने को कहा। उन्होंने दुर्घटना या दैवी आपदा की घटनाओं में फौत होने पर अनिवार्य रुप से पोस्टमार्टम कराये जाने के साथ डेढ़ माह के भीतर दावा प्रस्तुत करने को कहा।कहा बिना पीएम के शासन प्रशासन से किसी भी प्रकार की आर्थिक सहायता नहीं मिल सकती है।

इस अवसर पर ग्राम प्रधान ब्रह्म पाल सिंह ने आवास, पेंशन, राशनकार्ड, आयुष्मान आदि योजनाओं के लिये ऑन लाइन पंजीकरण कराने को कहा। उन्होंने शौचालयों का शत प्रतिशत प्रयोग किये जाने के साथ साफ सफाई रखने को कहा। कहा कि पात्र लोगों को बिना किसी भेदभाव के योजनाओं का लाभ दिलाया जाएगा।

इस अवसर पर समीर सिंह सेंगर देबू, श्रीराम दिवाकर, राजकिशोर सिंह, दुर्गा नारायन, अजीत, भगीरथ, शंकर सिंह, मंजू देवी, चंद्रपाल, शिवमंगल सिंह, अजय कुमार, ब्रजेश कुमार, शीलेन्द्र सिंह, उमाकांत, विमलेश, करुणा देवी, सोनम, धर्मेन्द्र सिंह, गोलू, सुनीता, अर्चना, नीलम देवी आदि मौजूद रहे।

रिपोर्ट – संदीप राठौर चुनमुन/राहुल तिवारी

About Samar Saleel

Check Also

सीएचसी में लगा नसबंदी शिविर, शिविर में तीन दर्जन महिलाओं ने कराया पंजीकरण

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बिधूना। सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिधूना में शुक्रवार को ...