Breaking News

प्राथमिक विद्यालयों में खूब चहके नन्हे-मुन्हे

  • गोमतीनगर के गडेरियनपुरवा प्राथमिक विद्यालय में दिखा कान्वेंट स्कूल सा नजारा
  • अभिभावक भी हुए गदगद, अपने बच्चों की परफॉर्मेंस देखने सज-धज पर पहुंचे विद्यालय
  • बेसिक शिक्षा के निपुण भारत अभियान के तहत चहक कार्यक्रम के दूसरे सत्र का समापन
  • पहली बार प्राथमिक विद्यालयों में हो रहा चहक उत्सव का आयोजन

लखनऊ। निपुण भारत अभियान के तहत प्रदेश के सभी प्राथमिक विद्यालयों में गुरुवार को ‘चहक’ उत्सव बड़े शानदार ढंग से मनाया गया। राजधानी के गोमतीनगर स्थित गड़ेरियनपुरवा प्राथमिक स्कूल में भी उत्सव का समापन बड़ी खूबसूरती के साथ हुआ। विद्यालय में कक्षा एक में पढ़ने वाले बच्चों में काफी उल्लास था। उन्होंने विभिन्न गतिविधियों में खुलकर हिस्सा लिया और अपने कौशल का भरपूर प्रदर्शन किया। अभिभावक भी इस कार्यक्रम में शामिल हुए और अपने बच्चों की प्रतिभा देख खुशी के भाव नहीं छुपा पाए।

पहली बार प्राथमिक विद्यालयों में बच्चों की प्रतिभा दिखाने के लिए अभिभावकों को चहक उत्सव में आमंत्रित किया गया था। छात्रा पीहू की मां रेनू ने कहा कि हम जहां काम करने जाते हैं वहां मालिक के बच्चों को इस तरह की गतिविधियां करते देखा करते थे लेकिन आज प्राथमिक स्कूल में भी कान्वेंट स्कूल की तरह अपने बच्चों में प्रतिभा का विकास होते देख हम खुशी से फूले नहीं समा रहे हैं। गड़ेरियनपुरवा प्राथमिक स्कूल में चहक कार्यक्रम की नोडल टीचर डॉ. अचर्ना त्रिपाठी रहीं।

उनके निर्देशन में बच्चों ने सबसे पहले ईश्वर की अराधना प्रस्तुत की। ‘बच्चे मन से सच्चे’ गीत को सामुहिक रूप से गाकर प्रस्तुत किया। इसके बाद नन्हे-मुन्हों ने फैशन का जलवा भी दिखाया। कक्षा एक की साक्षी ने कार्यक्रम में शमिल अभिभावकों का अंग्रेजी में स्पीच देकर स्वागत किया। गतिविधियों का अभिभावकों ने खूब आनन्द उठाया और तालियां भी बजाईं। अभिभावकों को बच्चों की पोर्टफोलियो और आकलन प्रपत्र दिखाया गया। बच्चों ने भाषा और गणित लिख और पढ़ कर दिखाया। विद्यालय में शिक्षा प्राप्त करने वाले बच्चों की माताओं को सुपर मॉम, निपुण मॉम और स्टार मॉम जैसे खिताबों से नवाजा गया।

कार्यक्रम का समापन कार्यक्रम इंचार्ज स्मिता मिश्रा ने धन्यवाद ज्ञापन कर किया। बता दें चहक कार्यक्रम के तहत प्राथमिक विद्यालय में बच्चों का पढ़ाई में मन लगे इसके लिए खेल, डांस, रैंप वॉक जैसी कई छोटी-छोटी गतिविधियां कराई जाती हैं। 25 अप्रैल 2022 से 12 सप्ताह तक यह गतिविधियां सभी प्राथमिक विद्यालयों में क्लास 1 में संचालित की जा रही है l

About Samar Saleel

Check Also

लखनऊ विश्वविद्यालय ने जारी की पीएचडी में साक्षात्कार के लिए अभ्यर्थियों की सूची

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ विश्वविद्यालय की पीएचडी (2021-22)प्रवेश परीक्षा के अंतर्गत ...