मोबाइल हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर को हरी झंडी दिखाकर किया गया रवाना

• सामान्य गैर संचारी रोगों की स्क्रीनिंग और सामान्य नेत्र विकारों के उपचार की होगी व्यवस्था
• शुरुआत में मुजफ्फरपुर और नालंदा में घूमेगी मोबाइल हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर

पटना। आयुष्मान भारत कार्यक्रम के अंतर्गत स्वास्थ्य सेवाओं को जन समुदाय के करीब पहुंचाने के उद्देश्य से गुरुवार को राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह के द्वारा समिति के प्रांगण से मोबाइल हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया।

शुरुआत में यह मोबाइल हेल्थ एंड वैलनेस सेंटर राज्य के दो जिलों यथा मुजफ्फरपुर और नालंदा में चलेंगे। इन चलंत वाहनों में सामान्य गैर संचारी रोगों स्क्रीनिंग और सामान्य नेत्र विकारों के उपचार की सुविधा उपलब्ध होगी। मोबाइल हेल्थ एंड वैलनेस वाहन में चिकित्सकीय परामर्श हेतु टेलीकंसल्टेशन की भी सुविधा उपलब्ध है। इस वाहन में एक स्टाफ नर्स एक नेत्र सहायक मौजूद रहेंगे एवं नेत्र जांच से संबंधित आधुनिक उपकरण भी वाहन के अंदर मौजूद हैं, जिससे लाभार्थी मौके पर ही नेत्र जांच की सुविधा का लाभ उठा पाएंगे।

वाहन के माध्यम से दवा और उपकरण की व्यवस्था रहेगी। इसका मुख्य उद्देश्य ग्रामीण स्तर पर स्वास्थ्य के प्रति ग्रामीणों को जागरूक करना एवं रोगों का सही समय पर इलाज करने के लिए प्रेरित करना है। इस प्रोजेक्ट में जापाईगो, केयर इंडिया और जिला स्वास्थ समिति के स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं का सहयोग लेकर इसे सुचारू रूप से क्रियान्वित किया जाएगा।

इस मौके पर राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह, अनिमेष कुमार पराशर, अपर कार्यपालक निदेशक, सुमन प्रसाद साह, प्रशासी पदाधिकारी, राज्य स्वास्थ्य समिति, बिहार, राज्य कार्यक्रम पदाधिकारी, हेल्थ एड वेलनेस सेंटर डॉ. ए.के. शाही, डॉ. माज़ इकबाल, हेल्थ एड वेलनेस सेंटर सलाहकार, जापाईगो के स्टेट हेड डॉ. पल्लवी, केयर इंडिया के राज्य कार्यक्रम प्रबंधक रवींद्र शर्मा समेत समिति के अन्य पदाधिकारीगण उपस्थित रहे।

About Samar Saleel

Check Also

डॉ. आंबेडकर के विचारों पर वर्तमान सरकार का अमल

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें डॉ. भीमराव रामजी आंबेडकर की प्रतिष्ठा में सर्वाधिक ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *