Breaking News

युवाओं का नैतिक दायित्व बुजुर्गों के लिए समय दान

लखनऊ। अंतराष्ट्रीय बुजुर्ग दिवस पर गाइड संस्था द्वारा आईंटी गर्ल्स कॉलेज के गृह विज्ञान विभाग के सहतत्वाधान में एक अंतरराष्ट्रीय बेविनार का आयोजन हुआ, जिसमे गोल्डन एज पंजीकरण डिजिटल फॉर्म लांच हुआ। संस्था के यूथ ब्रिगेड के प्रेसीडेंट व इस डिजिटल फॉर्म को बनाने वाले लखनऊ विश्वविद्यालय के छात्र शाश्वत सुभाष ने संवाददाता को बताया कि इस फॉर्म में किसी भी एनरोयड मोबाइल से बहुत आसानी से 5 मिनट में एक बुजुर्ग की महत्वपूर्ण सूचनाएं व समस्याए भरी जा सकती हैं। कोई भी युवा अपने समय मे से कुछ क्षण निकाल कर किसी भी बुजुर्ग का फॉर्म भर सकता है।

उम्र के इस पड़ाव पर बुजुर्गों के लिए समय दान कर उनकी सेवा करना प्रत्येक युवा का कर्तव्य है । इस फॉर्म के विषय मे जानकारी लेने व दादा दादी क्लब से निःशुल्क जुड़ने के लिए संस्था के गोल्डेन एज टोल फ्री नंबर 18001800060 पर कॉल करें।

संस्था की संस्थापक डॉ. इन्दु सुभाष ने बताया कि इस फॉर्म के माध्यम से संकलित आंकड़ों को मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी द्वारा बुजुर्गों की सुरक्षा के लिए प्रारम्भ किये गए सवेरा कार्यक्रम से संबंधित पुलिस अधिकारी को सौंप दिया जाएगा। इस फॉर्म से बुजुर्गों की समस्याओं के आंकड़ो को एकत्र करने में आसानी होगी और उनके निराकरण की राह भी मिलेगी साथ ही भारत मे वरिष्ठ नागरिक आयोग के बनने के मूल भूत आंकड़ो को एकत्र करने में आसानी होगी। निःसंदेह युवाओं को इस पुनीत कार्य में अपना कुछ समय दान सजग रह कर निःस्वार्थ भाव से करना होगा। उन्होंने कहा कि युवाओं को बुजुर्गों के लिए थोड़ा समयदान कर उन्हें आधुनिक तकनीक संचालित उपकरणों को प्रयोग करने के लिए उत्साहित करना चाहिए तथा मेट्रो, ओला उबेर, एटीएम, ईमेल करना आदि।

कार्यक्रम में संस्था के संरक्षक न्यायमूर्ति सुधीर चंद्र वर्मा, सशस्त्र सीमा बल के पुलिस महानिरीक्षक रत्न संजय, डॉ. अनिल रस्तोगी, देवेंद्र मोदी, डॉ. इन्दु सुभाष व महाविद्यालय की डॉ. नीलम कुमारी, डॉ. अणिमा जामवाल, डॉ. रचना मिश्रा, डॉ. नीरज मसीह उपस्थित रहे। कार्यक्रम का सफल संचालन ऑस्ट्रेलिया से राम कुमार शर्मा एक्सिक्यूटिव डायरेक्टर गाइड ने किया।संस्था के संरक्षक न्यायमूर्ति सुधीर चंद्र वर्मा ने कहा कि संस्था द्वारा देश विदेश के विद्यार्थियों से बुजुर्गों की ज़िंदगी की ज्वलंत समस्यायों पर सीधा संवाद कार्यक्रम निःसंदेह समाज मे मानसिक रूप से नितांत अकेले रह रहे बुजुर्गों के प्रति संवेदनशील ता व सजगता उत्पन्न करेगा।

गाइड गोल्डन एज कल्याण महासंघ के अध्यक्ष देवेंद्र मोदी ने कहा वृद्धजनों की सेवा व आदर पारिवारिक ही नही सामाजिक दायित्व है उनके शारिरिक व मानसिक स्वास्थ्य का ध्यान रखना भी जरूरी है।लखनऊ के प्रसिद्ध उद्यमी, एमएसएमई कॉन्फिडेंशन उत्तर प्रदेश के चैयरपर्सन गौरव प्रकाश ने कहा कि बुजुर्गों के अकेलेपन को खत्म करने व उनको परिवार व दोस्तों से जोड़े रखने के लिए युवा उन्हें आज के आधुनिक तकनीकी यंत्रों को धैर्यपूर्वक चलाना सिखाये।

छात्रायों को संबोधित करते हुए सशस्त्र सीमा बल के पुलिस महानिरीक्षक रत्न संजय ने बुजुर्गों के प्रति श्रद्धाभाव रखते हुए कहा कि कमजोर लोगो को कमजोर होने का एहसास न होने दें सम्मान का भाव रखे। उन्होंने अपनी ज़िंदगी के अनुभवो को छात्रायों से साझा किया कि जिंदगी में माता पिता के आशीर्वाद से चमत्कारिक रूप से खुशियां मिलती हैं।

प्रसिद्ध रंगकर्मी व संस्था के संरक्षक डॉ. अनिल रस्तोगी ने बुजुर्गों से संबंधित समस्याओं को विद्यार्थियों के पाठ्यक्रम में शामिल करने की बात कही व दिन प्रतिदिन की जिंदगी में बुजुर्गों के लिए तकनीकी ज्ञान सीखना जरूरी है जो पोता पोती सबसे बढ़िया सहायक होते हैं। ग्रिफ्फिन एडु टैलेंट ऑस्ट्रेलिया के एमडी राम कुमार ने बुजुर्गों को भविष्य के लिए निश्चित रूप से धन की बचत करनी चाहिए।

बहुत भावुक होकर सारी संपत्ति बच्चो के नाम न करें। कार्यक्रम में आयुषी अवस्थी द्वारा गोल्डन एज वरिष्ठ नागरिक सम्मान शपथ दिलाई गई। महाविद्यालय की तरफ से डॉ. नीलम कुमारी, डॉ. रचना मिश्रा ने कार्यक्रम को युवायों के लिए बहुत ह्र्दयग्राही बताया तथा संस्था के युवाओं को बुजुर्गों के सम्मान के प्रति संवेदनशील बनाने के कार्यक्रम के साथ जुड़े रहने की बात कही।

About Samar Saleel

Check Also

बनारस रेल इंजन कारखाना में स्वच्छता अभियान का आयोजन

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें बनारस रेल इंजन कारखाना में आज बरेका परिसर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *