उत्तराखंड में शुरू होगी मोटर बाइक एम्बुलेंस सेवा, पर्वतीय क्षेत्र के निवासियों को मिलेगा फायदा

उत्तराखंड की स्वास्थ्य सेवाओं को बेहतर बनाने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत और केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे की ऑनलाइन उपस्थिति में देहरादून में निजी क्षेत्र के एक अस्पताल ने एक महत्वपूर्ण समझौता किया.

ऑनलाइन आयोजित एक कार्यक्रम में स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय, जौलीग्रांट देहरादून और ग्लोबल हेल्थ एलायंस, यूनाइटेड किंगडम के बीच एमओयू पर हस्ताक्षर किए गए. ग्लोबल हेल्थ एलायंस, विभिन्न कोर्सिस के माध्यम से मेडिकल स्टाफ, विशेष तौर पर पैरामेडिकल स्टाफ, नर्सिंग स्टाफ को क्वालिटी प्रशिक्षण देगा. इसमें बेहद महत्वपूर्ण मोटर बाइक पैरामेडिक प्रशिक्षण भी शामिल है.

मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने इस मौके पर कहा कि दोनों संस्थाओं के बीच इस समझौते से स्वास्थ्य के क्षेत्र में उत्तराखण्ड को काफी लाभ होगा. मोटर बाइक पैरामेडिक से पर्वतीय क्षेत्रों में मौके पर जाकर मरीजों को त्वरित चिकित्सा दी जा सकेगी.

Loading...

विश्व स्तरीय संस्था ग्लोबल हैल्थ एलायंस के द्वारा डिजाइन किए गए पाठ्यक्रमों से यहां के मेडिकल और पैरामेडिकल छात्रों का कौशल विकास होगा. रोजगार की दृष्टि से भी युवाओं को लाभ मिल सकेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि देहरादून मेडिकल हब के रूप में उभर रहा है. ह्रदय रोग और डायबिटीज के इलाज की सुविधा पर विशेष ध्यान देना होगा.

स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय के कुलपति डॉक्टर विजय धस्माना ने स्वामी राम हिमालयन विश्वविद्यालय के कार्यों की जानकारी देते हुए कहा कि उत्तराखंड में स्वास्थ्य सुविधा बढ़ाना पहली प्राथमिकता है. इस एमओयू से पैरामेडिकल स्टाफ की गुणवत्ता बढ़ेगी.

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

किसान आंदोलन: पंजाब में फंसी अनेक मालगाडिय़ां, अटका 24 हजार करोड़ का माल

जाब में किसान आंदोलन के चलते बंद की गई ट्रेनों के पुन: संचालन की खबरों ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *