Breaking News

नालंदा में नया अध्याय

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बिहार के नालंदा विश्वविद्यालय के नेट जीरो ग्रीन कैंपस का उद्घाटन किया। उद्घाटन के बाद 800 साल के बाद इस विश्वविद्यालय का गौरव लौटा है। राजगीर की पंच पहाड़ियों में शुमार वैभारगिरि की तलहटी में नए नालंदा विश्वविद्यालय का निर्माण हुआ है। नालंदा विश्वविद्यालय के नये परिसर का निर्माण 455 एकड़ के विशाल भूखंड पर किया गया है।

नालंदा में नया अध्याय

प्रधानमंत्री ने कहा कि नालंदा इस सत्य का उद्घोष है कि आग की लपटों में पुस्तकें भले जल जाएं लेकिन आग की लपटें ज्ञान को नहीं मिटा सकतीं। इस मौके स्त्रह देशों के राजदूत भी उपस्थित रहे। नालंदा कभी भारत की परंपरा और पहचान का जीवंत केंद्र हुआ करता था। शिक्षा को लेकर यही भारत की सोच रही है।

नालंदा में नया अध्याय

शिक्षा ही हमें गढ़ती है, विचार देती है और उसे आकार देती है। प्राचीन नालंदा में बच्चों का प्रवेश उनकी पहचान, उनकी राष्ट्रीयता को देख कर नहीं होता था। हर देश हर वर्ग के युवा यहां पर अध्ययन करने के लिए आते थे।

नालंदा विश्वविद्यालय के इस नए परिसर में उसी प्राचीन व्यवस्था को फिर से आधुनिक रूप में मजबूती मिलेगी। नालंदा में बीस से ज्यादा देशों के छात्र पढ़ाई कर रहे हैं। ये वसुधैव कुटुंबकम की भावना का कितना सुंदर प्रतीक है।

About Samar Saleel

Check Also

बजट में नौजवान, किसान और महिलाओं के भविष्य पर ध्यान दिया गया- अनिल दुबे

लखनऊ। राष्ट्रीय लोकदल के राष्ट्रीय प्रवक्ता अनिल दुबे ने केन्द्र सरकार के बजट पर प्रतिक्रिया ...