राष्ट्रीय स्वाभिमान का संकल्प

रिपोर्ट-डॉ. दिलीप अग्निहोत्री
भाजपा वर्चुअल रैलियों के माध्यम से जन जागरण का अभियान चला रही है। कोरोना से बचाव की जानकारी के साथ ही पिछले एक वर्ष में हुए अभूतपूर्व कार्यों का भी उल्लेख किया जा रहा है। विपक्ष द्वारा की जा रही नकारात्मक राजनीति के जबाब में शायद भाजपा ने यह अभियान चलाया है। आपदा के समय जनसामान्य का मनोबल भी ऊंचा रहना चाहिए। इस क्रम में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर जन संवाद रैली को नई दिल्ली से संबोधित किया। इसमें उन्होंने जम्मू कश्मीर, पीओके, पाकिस्तान व चीन से जुड़े विषयों को उठाया। कहा कि प्रधानमंत्री​ नरेंद्र मोदी ने​ केंद्र में दोबारा सरकार बनने के सौ दिनों के भीतर जन आकांक्षा का सम्मान करते हुए अनुच्छेद तीन सौ सत्तर और पैंतीस ए को समाप्त कर दिया। जम्मू और कश्मीर राज्य को दो केन्द्रशासित प्रदेशों में बांट कर बरसों से पल रही जन आकांक्षाओं का भी सम्मान किया है।​

आपातकाल के दौरान जब संविधान के ​ब्यालीसँवा संशोधन किया गया था। इसके माध्यम से सेक्युलर शब्द जोड़ा गया। राजनाथ ने कहा कि जम्मू कश्मीर की विधानसभा ने यह शब्द​ जम्मू कश्मीर के संविधान में जुड़ने नहीं दिया। अब जम्मू कश्मीर सही मायनों में सेक्युलर हो गया है। उन्होंने विश्वास दिलाया कि हम किसी भी सूरत में भारत के राष्ट्रीय स्वाभिमान से समझौता नहीं करेंगे।​​ मोदी सरकार ने संकल्प लिया है कि भारत एक आयातक देश के रूप नहीं बल्कि एक निर्यातक देश के रूप में पहचाना जाना चाहिए।​​​​ ​अब​ एमएसएमई सेक्टर को पुनःपरिभाषित किया गया है। कई ऐसे निर्णय लिए गए हैं जिससे भारत के उद्योगों को बढ़ावा मिलेगा। प्रधानमंत्रीजी ने आत्मनिर्भर भारत की बात की है और जिस दिशा में हम बढ़ रहे हैं​​।​ भारत को आत्मनिर्भर होने से कोई रोक नहीं सकता​​। राजनाथ सिंह ने जन संवाद रैली में पाकिस्तान पर हमला बोला। कहा कि अगले पांच साल में जम्मू कश्मीर की तस्वीर इतनी बदल देंगे कि पीओके से ही भारत में विलय की मांग होगी।

Loading...

उस दिन हमारी संसद का भी यह संकल्प पूरा हो जाएगा। राजनाथ सिंह कहा कि हम जबसे पीओके का मौसम बता रहे हैं तब से पाकिस्तान का मौसम बिगड़ गया है। हमारे चैनल गिलगित मुजफ्फराबाद का तापमान और मौसम का हाल बता रहे हैं। ये बताने के कारण अब इस्लामाबाद में भी कुछ हरारत महसूस होने लगी है। पाकिस्तान की नापाक हरकतों के लिए उसकी निकम्मी सरकार और आतंकपरस्त फौज को जिम्मेदार बताया। रक्षा क्षेत्र में भी भारत तेजी से आगे बढ़ रहा है।​ ​राफेल लड़ाकू विमान सेना में शामिल होने के बाद हमारी वायुसेना की ताकत बढ़ जाएगी।​ हम देश की सुरक्षा के लिए ताकत बढ़ाना चाहते हैं। रक्षा मंत्री ने कहा है कि सैन्य स्तर पर चीन के साथ बातचीत जारी है। सही समय पर सब कुछ खुलासा करेंगे​ लेकिन ​​देश की सुरक्षा और संप्रभुता के साथ कोई समझौता नहीं होगा।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

पीएम मोदी ने किया दुनिया के सबसे बड़े कोविड टीकाकरण अभियान का शुभारंभ

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें देश में कोरोना वायरस से बचाव के लिये ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *