Breaking News

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल ‘जल ज्ञान यात्रा’ का आयोजन

• स्कूली बच्चों ने देखी ‘हर घर जल’ योजना से बदलती तस्वीर

• छात्रों ने किया ग्रामीण पेयजल परियोजनाओं का भ्रमण, जल गुणवत्ता की देखी जांच

• ग्राम पंचायत बर्मी पहुंचे बच्चों ने देखी अमृत वाटिका, जल जागरूकता कार्यक्रम से समझी महत्ता

•  हर घर में नल कनेक्शन, ग्रामीण परिवारों को मिल रहा शुद्ध पेयजल

• स्कूल-आंगनबाड़ी-चिकित्सालय और पंचायत भवन में भी लगे नल

सीतापुर। जल जीवन मिशन की ‘हर घर जल’ योजना से उत्तर प्रदेश के प्रत्येक गांव में शुद्ध पेयजल सप्लाई पहुंच रही है। सीतापुर के बर्मी गांव का तो क्या ही कहना, जिसे ‘हर घर जल’गांव घोषित किया जा चुका है। नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल पर जिले में ‘जल ज्ञान यात्रा’ आयोजित की गई। यहां बर्मी गांव में आए बदलाव को सरकारी स्कूलों के बच्चों ने नजदीक से देखा। बच्चों के लिए यह नजारा बिलकुल ही अलग था।

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल 'जल ज्ञान यात्रा' का आयोजन

बर्मी गांव उनके लिए किसी मॉडल विलेज से कम नहीं था, जहां पीने के पानी की अब कोई समस्या नहीं है। यहां हर घर में नल कनेक्शन लगा है, जिससे ग्रामीण परिवारों को शुद्ध पेयजल मिल रहा है। साथ ही यहां स्कूलों, आंगनबाड़ी केंद्रों के साथ ही चिकित्सालय और पंचायत भवन पर भी नल कनेक्शन लगा हुआ है।

👉गांवों के संतुलित विकास से ही गांवों से शहरों की ओर पलायन रूकेगा: केशव प्रसाद मौर्य

सीतापुर के सरकारी स्कूलों के बच्चों को जल जीवन मिशन की योजना के तहत बनाई गई पेयजल परियोजनाओं का भ्रमण कराया गया। छात्रों को जल निगम (ग्रामीण) की प्रयोगशाला में जल गुणवत्ता की जांच भी दिखाई गई। ‘हर घर जल’ गांव पहुंचे बच्चों को ग्रामीणों ने बताया कि उन्हें योजना से किस तरह लाभ मिल रहा है।

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल 'जल ज्ञान यात्रा' का आयोजन

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल जल ज्ञान यात्रा को बीएसए कार्यालय से जल निगम (ग्रामीण) के अधिशाषी अभियंता आलोक पटेल ने हरी झंडी दिखाई। जल ज्ञान यात्रा सबसे पहले जल निगम (ग्रामीण ) प्रयोगशाला पहुंची।

यहां स्कूली बच्चों को पानी की जांच में प्रयोग होने वाले उपकरणों और उसके इस्तेमाल को दिखाया गया। बच्चों को गांव-गांव में फील्ड टेस्ट किट से पानी की जांच कर रही ग्रामीण महिलाओं के बारे में भी जानकारी दी गई।

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल 'जल ज्ञान यात्रा' का आयोजन

उन्हें बताया गया कि किस तरह ये महिलाएं घर-घर जाकर एफटीके किट से 11 तरह की जल जांच करती है। ग्राम पंचायत बर्मी विकासखंड मिश्रिख (ग्रामीण) पेयजल योजना पर पहुंचे बच्चों ने ग्रामीणों को दी जा रही पेयजल सप्लाई की प्रक्रिया देखी। जल निगम के अधिकारियों ने स्कूली बच्चों को हर घर जल योजना से ग्रामीणों के जीवन में आए बदलाव की जानकारी भी दी।

नमामि गंगे एवं ग्रामीण जलापूर्ति विभाग की अनूठी पहल 'जल ज्ञान यात्रा' का आयोजन

छात्रों को पेयजल के महत्व और उपलब्धता के साथ ही सोलर संचालित ओवर हैड टैंक भी दिखाया गया। उन्हें ग्राम पंचायत बर्मी मिश्रिख में बने अमृत वाटिका ले जाया गया, जहां नुक्कड़-नाटक के माध्यम से जल के जीवन में महत्व को बताया गया।

About Samar Saleel

Check Also

सोनू निगम ने लाइव शो में दर्शकों को किया मंत्रमुग्ध

मुंबई (अनिल बेदाग)। दर्शकों को मुंबई में एक अविस्मरणीय लाइव प्रदर्शन का आनंद मिला जब ...