Breaking News

मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं राजधानी लखनऊ में मिश्रीपुर के लोग

यूपी की राजधानी लखनऊ के मिश्रीपुर इलाके की सुपर कालोनी में चारो तरफ गंदगी का अंबार लगा हुआ है! यहां के लोगों का कहना है कि उन्हें मूलभूत सुविधाएं भी नहीं मिलतीं! कॉलोनी में बारिश के पानी के निकासी की भी कोई व्यवस्था नहीं है!

लखनऊ : राजधानी के मिश्रीपुर इलाके की सुपर कॉलोनी में रहने वाले लोग पिछले कई सालों से मूलभूत सेवाओं से वंचित हैं! यहां के निवासियों का कहना है कि पिछले कई सालों से हम लोग यहां रह रहे हैं, लेकिन विकास के नाम पर कॉलोनी में कोई भी कार्य नहीं हुआ! यहां न तो कोई रोड बनी और न पानी की निकासी के लिए नालियों का निर्माण हुआ है!

सुपर कलोनी में रहने वाले जावेद अधिवक्ता, आसिम, डॉ.एस अज़ीज़, एहसन, सिकन्दर बाबू समेत दर्जनो लोगो की यही शिकायत है कि शिकायत करने के बाद भी ज़िम्मेदार अधिकारी आश्वासन के अलावा कुछ नही करते हैं! इन लोगो का कहना है कि बारिश के मौसम में काफी समस्याओं का सामना करना पड़ता है! आलम यह है कि यहां बारिश के मौसम में पानी की निकासी के लिए नालियां न होने के कारण रोड पर पानी कई-कई दिनों तक भरा रहता है! गंदा पानी भरने की वजह से पूरे इलाके में बदबू आती है! इतना ही नहींं इससे बारिश के मौसम में बीमारी फैलने का खतरा भी रहता है! लोगों को गंदे पानी से होकर आना-जाना पड़ता है!

मूलभूत सुविधाओं से वंचित हैं राजधानी लखनऊ में मिश्रीपुर के लोग

कॉलोनी में आवागमन के सभी रास्ते कच्चे हैं! बारिश होने पर लोगों को कीचड़ से होकर निकलना पड़ता है! मुख्य मार्ग से कॉलोनी में होते हुए रास्ता इतना खराब हो जाता है कि बाइक औऱ चार पहिये वाहन से निकलना मुश्किल है! कालोनी के इस मार्ग पर जबर्दस्त कीचड़ होने के कारण आवागमन के लिए रास्ता नहीं बचता है! जलभराव होने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है! कॉलोनी में बिजली की कोई समुचित व्यवस्था नही है!

मिश्रीपुर उत्तर प्रदेश के लखनऊ जिले की बख्शी का तालाब तहसील का एक बड़ा गाँव है, जिसमें लगभग एक हज़ार से अधिक परिवार रहते हैं! मिश्रीपुर गाँव की जनसंख्या 4583 है, जिसमें 2390 पुरुष हैं जबकि 2011 की जनगणना के अनुसार 2193 महिलाएँ हैं! गाँव में 0-6 आयु वर्ग के बच्चों की जनसंख्या 723 है जो गाँव की कुल जनसंख्या का 15.78% है! मिसरीपुर गाँव का औसत लिंग अनुपात 918 है जो उत्तर प्रदेश राज्य के औसत 912 से अधिक है! जनगणना के अनुसार मिसरीपुर में बाल लिंग अनुपात 954 है, जो उत्तर प्रदेश के औसत 902 से अधिक है! मिश्रीपुर गांव में साक्षरता दर कम है! 2011 में, उत्तर प्रदेश के 67.68% की तुलना में मिसरीपुर गाँव की साक्षरता दर 59.22 प्रतिशत थी! मिश्रीपुर में पुरुष साक्षरता 67.33% है जबकि महिला साक्षरता दर 50.33% है!

सुपर कॉलोनी परिसीमन से पहले बसी हुई हैं! कॉलोनी में अधिकांश मध्यमवर्गीय परिवार रहते है! इस कॉलोनी के सभी रास्ते काफी चौड़े है, लेकिन कच्चे होने के कारण लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है!

मिश्रीपुर के नजदीकी शहर लखनऊ, संडीला, जैदपुर, पुरवा हैं, यहाँ कि भाषा: हिंदी और उर्दू, अवधी हैं, समय क्षेत्र: IST (UTC+5:30) ऊंचाई / ऊंचाई: 116 मीटर। सील स्तर से ऊपर

टेलीफोन कोड / एसटीडी कोड – 0522, मिश्रीपुर पहुँचने के लिए ट्रेन से बख्शी का तालाब रेल मार्ग स्टेशन, मोहिबुल्लापुर रेल मार्ग स्टेशन मिश्रीपुर के बहुत नजदीकी रेलवे स्टेशन हैं! लखनऊ रेल मार्ग स्टेशन मिश्रीपुर के निकट 19 किमी का प्रमुख रेलवे स्टेशन है! मिश्रीपुर के पास पिनकोड 226021 (जानकीपुरम विस्तार) 227207!

आस-पास के रेलवे स्टेशन – बख्शी का तालाब- 0 किमी मोहिबुल्लापुर- 9 किमी, इटौंजा- 12 किमी, डालीगंज- 14 किमी,

मिश्रीपुर के आसपास स्थल – लखनऊ- 16 किमी कानपुर-
93 किमी, रायबरेली- 100 किमी, श्रावस्ती- 134 किमी, फैजाबाद- 138 किमी पर मौजूद हैं! मिश्रीपुर निकटवर्ती कुछ आस-पास के स्थान नीचे सूचीबद्ध हैं – लखनऊ- 16 किमी, संडीला- 46 किमी, जैदपुर- 49 किमी, पुरवा- 66 किमी है! बख्शी-का-तालाब- 14 किमी, चिनहट- 18 किमी, काकोरी- 20 किमी हैं! अमौसी एयरपोर्ट- 27 किमी, कानपुर एयरपोर्ट- 91 किमी, बमरौली एयरपोर्ट- 212 किमी, गोरखपुर एयरपोर्ट- 281 किमी

सुपर कलोनी के लोगों ने बताया कि नगर निगम, विधायक आवास पर भी हम लोग शिकायत लेकर गए, लेकिन कोई भी सुनने को तैयार नहीं है, हर जगह से केवल आश्वासन मिलता है कि जल्द ही साफ-सफाई का कार्य कराया जाएगा! यहां के निवासी शरजील क़ादरी ने बताया कि सिर्फ आश्वासन ही मिलता रहा है, कोई कार्य नहीं हुआ है.

About reporter

Check Also

प्रदेश के सभी नगर पालिका परिषदों और पंचायतो में ‘सम्भव’ के तहत सोमवार को होगी जनसुनवाई

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें नगर विकास मंत्री ने अधिशासी अधिकारी के स्तर ...