Breaking News

PM मोदी का जोरदार स्वागत, जी20 समिट की सफलता पर धन्यवाद प्रस्ताव पास…

भाजपा ने जी20 शिखर सम्मेलन की ‘ऐतिहासिक और अभूतपूर्व सफलता’ के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की प्रशंसा करते हुए बुधवार को प्रस्ताव पारित किया। पार्टी की ओर से कहा गया कि समूह की भारत की अध्यक्षता को हमेशा ‘पीपुल्स जी20’ के रूप में देखा जाएगा।

प्रस्ताव में भाजपा संसदीय बोर्ड ने शिखर सम्मेलन में PM मोदी की ओर से दिखाए गए मजबूत नेतृत्व और अटूट प्रतिबद्धता का उल्लेख किया। इसमें कहा गया, ‘जी20 दिल्ली शिखर सम्मेलन भारत के कूटनीतिक इतिहास में महत्वपूर्ण अध्याय के रूप में जुड़ गया है। यह एक परिवर्तनकारी क्षण है, जिसके नजरिए से वैश्विक मंच पर अब हमारे राष्ट्र को देखा जाएगा।’

प्रस्ताव में कहा गया, ‘हम भाजपा कार्यकर्ता 9-10 सितंबर, 2023 को नई दिल्ली में आयोजित सफल जी20 शिखर सम्मेलन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भारत सरकार की गहरी सराहना करते हैं और उनका हार्दिक अभिनन्दन करते हैं।’ इसमें कहा गया कि इस सम्मेलन में हुई व्यापक वैश्विक भागीदारी को देखकर प्रसन्नता की अनुभूति हुई है। पार्टी की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि यह सफलता अद्वितीय और अभूतपूर्व है जो भारत की क्षमताओं और दूरदर्शी दृष्टिकोण में विश्व के विश्वास की पुष्टि करती है। इससे भारत की क्षमता और प्रधानमंत्री मोदी के प्रति दुनिया का विश्वास भी प्रमाणित हुआ है।

दुनिया को दिखाया विकास का मानव केंद्रित मॉडल
पार्टी ने कहा, ‘हम विगत वर्षों में अपनाए गए पारंपरिक जीडीपी केंद्रित विकास पथ से आगे बढ़ते हुए दुनिया को विकास का मानव केंद्रित मॉडल दिखाने के लिए प्रधानमंत्री मोदी की सराहना करते हैं।’ पार्टी ने यह भी कहा कि स्थिरता, समावेश और समृद्धि पर जोर देने वाला यह मॉडल जी20 शिखर सम्मेलन में भाग लेने वाले देशों के बीच गहराई से प्रतिध्वनित हुआ, जिसने मानवता की सामूहिक भलाई के लिए एक पुरोधा के रूप में भारत को प्रमुखता से स्थापित किया है।

इसमें कहा गया, ‘लोगों के प्रतिनिधि के रूप में हम अपने विश्वास में दृढ़ हैं कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भारत लगातार विकास, सहयोग और वैश्विक नेतृत्व द्वारा चिह्नित मार्ग तैयार करेगा। यह एक विरासत तैयार करेगा जिसे भविष्य की पीढ़ियां आशा और सकारात्मकता के साथ देखेंगी।’ बयान में कहा गया है कि 60 से अधिक शहरों ने 200 बैठकों की मेजबानी की और 1.5 करोड़ लोगों की भागीदारी हुई। इस पहल ने यह सुनिश्चित किया कि हमारे लोगों की आवाज इन महत्वपूर्ण चर्चाओं में गूंजे, उन्हें जमीनी दृष्टिकोण और आकांक्षाओं के साथ प्रेरित किया जाए। भाजपा के प्रस्ताव में कहा गया है कि जी20 शिखर सम्मेलन ने दुनिया को कई मुद्दों पर एक साथ लाया, चाहे वह अर्थशास्त्र हो, भू-राजनीति हो या प्रौद्योगिकी हो।

About News Desk (P)

Check Also

डीपीआई, यूपीआई और ई-रुपी पर बजट में कैसा रहेगा सरकार का रुख, बाजार को सरकार से बड़ी घोषणा का इंतजार

वित्तीय प्रौद्योगिकी कंपनियों के पास आगामी केंद्रीय बजट से मांगों और अपेक्षाओं की एक लंबी ...