श्रीलंका में फिर सियासी ड्रामा, राष्ट्रपति चुनाव से ठीक पहले साजिथ प्रेमदासा ने अचानक नाम वापस लिया

आर्थिक संकट के बीच श्रीलंका में राजनीतिक संकट भी गहराता जा रहा है.प्रधानमंत्री रानिल विक्रमसिंघे उनका कार्यभार संभाल रहे हैं। देश में नए राष्ट्रपति चुनाव के लिए तारीख की घोषणा हो चुकी है।

इस बीच श्रीलंका को एक और सियासी झटका लगा है।रोज यहां राजनीतिक सरगर्मी तेज होती दिख रही है. यहां 20 जुलाई को नए राष्ट्रपति का चुनाव होना है.चुनाव से एक दिन पहले साजिथ प्रेमदासा ने अपना नामांकन वापस लेते हुए सभी को हैरान कर दिया. अब राष्ट्रपति की रेस के लिए 3 नाम बचे हैं.

साजिथ प्रेमदासा ने खुद ट्विटर के माध्यम से उम्मीदवारी से पीछे हटने की जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट किया कि मैं अपने देश जिसे मैं प्यार करता हूं, उसकी भलाई के लिए राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी से अपना नाम वापस लेता हूं। हमारी पार्टी विपक्षी सहयोग की दिशा में कड़ी मेहनत करेंगे।

राजपक्षे के देश से भागने के बाद विक्रमसिंघे को कार्यवाहक राष्ट्रपति बनाया गया था।   राष्ट्रपति पद के लिए मौजूदा कार्यवाहक राष्ट्रपति रनिल विक्रमसिंघे और विपक्ष के नेता साजिथ प्रेमदासा समेत कुल चार नेताओं ने दावा ठोका, लेकिन चुनाव से एक दिन पहले साजिथ प्रेमदासा ने अपना नामांकन वापस लेते हुए सभी को हैरान कर दिया।इस रेस में मौजूदा कार्यवाहक राष्ट्रपति रनिल विक्रमसिंघे  और विपक्ष के नेता साजिथ प्रेमदासा  समेत कुल चार नेताओं ने दावा ठोका था.

About News Room lko

Check Also

“झूठे वादे करके जीत हासिल करने के बजाय मैं हारना पसंद करूँगा”, चुनावी वादों पर बोले ऋषि सुनक

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें ब्रिटेन के प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार ऋषि सुनक ...