Breaking News

गंजेपन का मिल गया इलाज? वैज्ञानिकों का दावा, इस दवा से फिर से उग आएंगे बाल

लोगों की बदलती लाइफस्टाइल के कारण गंजेपन की समस्या अब आम हो चुकी है. कम उम्र ही अब लोगों में गंजेपन की समस्या सामने आने लगी है. गंजेपन की समस्या ग्लोबल स्तर पर लोगों को प्रभावित करती आई है. हाल ही में थाइलैंड के रिसर्चर्स का दावा है कि गंजेपन का एक प्रभावी इलाज अब मौजूद है. अपने शोध में इन रिसर्चर्स ने दावा किया है कि मैंग्रोव पेड़ के अर्क के सहारे गंजेपन की समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है. इस अर्क को Avicequinon C कहा जाता है और ये उन हॉर्मोन्स को रोकता है जिसके चलते बाल झड़ते हैं.

थाईलैंड की Chulalongkorn यूनिवर्सिटी के कुछ रिसर्चर्स ने हाल ही में एक शोध किया. इस शोध में 50 पुरुषों और महिलाओं को शामिल किया गया. शोध में सामने आया कि सभी लोग एंड्रोजेनिक एलोपिसीया से ग्रस्त थे जो बालों के झड़ने की सबसे आम समस्या है. इस ट्रीटमेंट के बाद ना केवल इन लोगों के बालों के झड़ने में कमी देखने को मिली बल्कि इन लोगों के बाल काफी मजबूत भी हुए. रिसर्च के अनुसार, ये उन लोगों के लिए भी कारगर है जो अपने बाल गंवा चुके हैं.

Loading...

शोध से जुड़े एक प्रोफेसर ने दावा किया कि हमने लोगों के सिर के हर हिस्से की तस्वीरें ली थीं. हेयर लॉस वाले क्षेत्र के लिए माइक्रोस्कोप की मदद भी ली थी. हमने इस प्रक्रिया को 4 महीनों के लिए दोहराया था. लोगों के गंजेपन वाले एरिया को चेक किया था और सिर्फ एक महीने बाद ही बालों की मजबूती में काफी पॉजिटिव बदलाव देखने को मिले थे. इसके अलावा किसी भी व्यक्ति को इससे कोई एलर्जी नहीं हुई थी.

6 महीन में बाजार में आ सकता है प्रोडक्ट
अब इस रिसर्च पर जोर ज्यादा से ज्यादा लोगों पर ये टेस्ट करना होगा ताकि थाइलैंड का फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन इसे अप्रूव कर सके. एक प्राइवेट कंपनी ने पहले ही इस रिसर्च के पेटेंट को खरीद लिया है और ये कंपनी इसके सहारे एक हेयर लॉस प्रॉडक्ट का निर्माण कर सकती है. माना जा रहा है कि अगले 6 महीनों में ये प्रॉडक्ट मार्केट में आ सकता है.

Loading...

About Ankit Singh

Check Also

वजन घटाने वालों के लिए सुबह का समय व्यायाम करने के लिए अच्छा है या नहीं? जानिए विशेषज्ञों की राय

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें आपने सुना होगा सुबह में व्यायाम करना शाम ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *