Breaking News

लखनऊ पूर्वी सीट पर सपा और बसपा देंगे भाजपा को कड़ी टक्कर

लखनऊ। इस साल सपा और बसपा भी लखनऊ पूर्व विधानसभा सीट पर बीजेपी के खिलाफ अपनी दावेदारी कर रहे हैं। हालाँकि, तीन बार कांग्रेज व‍िजयी रही है। इस सीट पर सबसे अध‍िक सात बार भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की है और फिलहाल, भारतीय जनता पार्टी का कब्जा है। बीजेपी का गढ़ मानी जानी वाली इस सीट पर 2017 में लगातार जीत दर्ज कर बीजेपी ने स‍िलस‍िला बरकरार रखा था।

2012 में कलराज म‍िश्र बने थे व‍िधायक
साल 2012 में भारतीय जनता पार्टी के टिकट पर कलराज मिश्र विधायक बने थे। ऐसे में भारतीय जनता पार्टी की कोशिश होगी कि वह इस सीट पर अपनी जीत का सिलसिला बरकरार रखे। वहीं सपा अपनी सीट पर कब्‍जा जमाने की कोश‍िश में है। 2017 के आंकड़ों के अनुसार इस सीट पर कुल 3 लाख 56 हजार 340 वोटर रजिस्टर्ड थे। हालांकि इस चुनाव में मतदाताओं की इस संख्या में इजाफा होने का अनुमान है।

2017 में जीते थे आशुतोष टंडन
इस सीट से भारतीय जनता पार्टी के आशुतोष टंडन ‘गोपाल जी’ विधायक हैं। आशुतोष टंडन ‘गोपाल जी’ 2017 में यहां से विजयी हुए। इस चुनाव में उन्होंने कांग्रेस पार्टी के अनुराग सिंह को 79230 वोटों के मार्जिन से हराया था। वहीं चुनाव में बहुजन समाज पार्टी तीसरे स्थान पर थी। इस सीट पर अनुमानित मतदाता- 3.56 लाख हैं।

महिला- पुरुष मतदाताओं की कुल संख्या ये है-

अनुमानित मतदाताओं की संख्या है – 3 लाख 56 हज़ार 340

महिला मतदाताओं की अनुमानित संख्या – 1 लाख 64 हज़ार 557

पुरुष मतदाताओं की अनुमानित संख्या – 1 लाख 91 हज़ार 777

 

 

 

 

About reporter

Check Also

हम नक्सलवाद के सामने घुटने नहीं टेकते, नेस्तनाबूद कर देते हैं- योगी आदित्यनाथ

• योगी आदित्यनाथ ने कोरबा में जनसभा को किया संबोधित • कहा- कांग्रेस का नक्सलवाद ...