Breaking News

श्रद्धा और उल्लास से मनाया जा रहा श्री गुरु नानक देव जी का प्रकाशोत्सव

नाका गुरुद्वारे में गूंजी गुरुवाणी ‘कुल तारण गुरु नानक आया’

लखनऊ। जगत गुरु साहिब श्री गुरु नानक देव के प्रकाशोत्सव पर ऐतिहासिक गुरुद्वारा नाका हिंडोला में समागम प्रारंभ हो गए। इस समागम में विशेष रुप से भाई संतोख सिंह जालंधर वाले भाई जसबीर सिंह खालसा अमृतसर वाले और प्रचारक भाई जसपाल वीर सिंह जालंधर वाले लखनऊ पहुंच चुके हैं। जिन्होंने प्रकाश उत्सव के कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

यह जानकारी कमेटी के प्रवक्ता सतपाल सिंह मीत ने देते हुए बताया कि लंगर तैयार करने एवं प्रसादे तैयार करने की सेवा गुरुवार सुबह से ही पुरुषों व महिलाओं द्वारा की जा रही है। शाम का समागम रहिरास साहब के पाठ के बाद शुरू हुआ उसके बाद गुरुद्वारा नाका के हजूरी रागी जत्था भाई राजिन्दर सिंह ने आरती का गायन किया तत्पश्चात जालंधर से आए हुए रागी भाई संतोख सिंह ने गुरबाणी का शबद ‘सुनि पुकार दातार प्रभ, गुरु नानक जग माहि पठाया’ गायन किया, गुरमत प्रचारक ज्ञानी जसपाल वीर सिंह ने गुरु नानक के जीवन की ऐतिहासिक कथा संगतों को सुनाई और गुरु नानक देव जी के उपदेशों के अनुसार जीवन को ढालने की प्रेरणा दी। अमृतसर के स्वर्ण मंदिर के हजूरी रागी जत्था भाई जसबीर सिंह खालसा ने गुरबाणी का कीर्तन ‘कुल तारण गुरु नानक आया’ जब संगतो को सुनाया तो संगत भी भाव विभोर होकर उनके साथ कीर्तन करने लगी और गुरबाणी के अलौकिक कीर्तन का आनंद लिया।

लखनऊ गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के अध्यक्ष राजेंद्र सिंह बग्गा ने बताया कि 19 नवंबर को जगत गुरु साहिब श्री गुरु नानक देव जी महाराज के प्रकाश उत्सव का मुख्य आयोजन डी.ए.वी. कॉलेज मैदान में गुरुद्वारा नाका हिंडोला की तरफ से किया जाएगा, जो प्रातः 7 बजे से लेकर शाम के 5 बजे तक चलेगा। जिसमें उत्तर प्रदेश सरकार के कई मंत्री गण और प्रशासनिक अधिकारी श्री गुरु नानक देव का आशीर्वाद लेने के लिए आएंगे। भव्य लंगर की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं साथ ही फ्री मेडिकल चेकअप कैंप और मेगा वैक्सीनेशन सेंटर भी डी.ए.वी. कॉलेज के मैदान में किया जाएगा।

   दया शंकर चौधरी

About Samar Saleel

Check Also

बाबा गोरखनाथ की पावन नगरी गोरखपुर में में जियो ट्रू 5G की सेवा प्रारम्भ, वाराणसी के बाद पूर्वांचल का दूसरा शहर हुआ 5G

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें गोरखपुर। आज रिलायंस जियो ने बाबा गोरखनाथ की ...