Breaking News

वैश्विक आंतकी अल जवाहिरी की इस बुरी आदत ने ही उन्हें चढ़ाया मौत के घाट, क्या जानते हैं आप ?

अमेरिका की सेंट्रल इंटेलिजेंस एजेंसी यानी सीआईए ने अफ़ग़ानिस्तान की राजधानी काबुल में आतंकवाद विरोधी ऑपरेशन चलाया था. इसी में अल-ज़वाहिरी की मौत हुई है.अल-जवाहिरी के अंत का कारण उसकी एक आदत बनी।

इसी आदत को सामने रखते हुए इस बड़े आतंकवाद निरोधी अभियान की तैयारी कई महीने पहले ही कर ली गई थी।अमेरिकी अधिकारियों ने अल-जवाहिरी की पनाहगाह का वृहद मॉडल तैयार कर उसे व्हाइट हाउस के ‘सिचुएशन रूम’ में राष्ट्रपति जो बाइडेन के समक्ष पेश किया था। उन्हें पता था कि अल-जवाहिरी अक्सर अपने घर की बालकनी में बैठता है।

अमेरिकी खुफिया विभाग ने अल-जवाहिरी की जीवनशैली का विस्तृत खाका तैयार किया था और जब मिसाइलों ने उड़ान भरी, तब अधिकारियों को यकीन था कि अल-कायदा सरगना बालकनी में होगा।

अमेरिका में 9/11 के हमले की साज़िश लादेन और ज़वाहिरी ने ही रची थी. ज़वाहिरी को अमेरिका मोस्ट वॉन्टेड आतंकवादी मानता था.बाइडन ने कहा कि अल-क़ायदा नेता के मारे जाने से 2001 में 9/11 के हमले के पीड़ितों के परिवार वालों को राहत मिली होगी.

तालिबान ने अमेरिका के इस अभियान को अंतरराष्ट्रीय नियमों और सिद्धांतों का खुला उल्लंघन बताया है. तालिबान के प्रवक्ता ने कहा, ”पिछले 20 सालों में ऐसी कार्रवाइयाँ नाकाम अनुभवों का दोहराव है. यह अमेरिकी हितों के ख़िलाफ़ है.”

 

About News Room lko

Check Also

विश्व के स्वदेशी लोगों का “अंतर्राष्ट्रीय दिवस”

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें हर वर्ष 09 अगस्त को विश्व के स्वदेशी ...