जहां देखने को मिलती है गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल

मोहम्मदी खीरी। कस्बे में गंगा जमुनी तहजीब की मिसाल देखने को मिलती हैं। कस्बे में मन्दिर मस्जिद व गुरुद्वारा आस-पास हैं। यहाँ प्राचीन काल से ही सभी धर्मों के लोग एक साथ मिल जुलकर खुशी खुशी त्योहार मनाते आ रहे हैं, आपको एक विशालकाय गुरुद्वारा के गुम्मद ,विशाल हनुमान मंदिर और मस्जिद की मीनार एक साथ देखने को मिलती है। कोई भी त्योहार किसी भी धर्म का हो, सभी लोग आपस में मिल जुलकर मनाते हैं।

प्रत्येक वर्ष गुरुद्वारे से नगर कीर्तन निकलता है, जिसमें सभी लोग सहयोग करते हैं व भाईचारे की मिसाल पेश करते हैं। हर महीने गुरुद्वारे मे अमावस्या पर कीर्तन व अरदास की जाती है। मोहम्मदी गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के सदस्य मोहन सिंह ने बताया कि मोहम्मदी व आसपास की संगत ने मिलकर गुरुद्वारे में होने वाले कार्यक्रम में सहयोग प्रदान करते हैं।

जब गुरुद्वारे से नगर कीर्तन निकाला जाता है तो सभी धर्मों के लोग उसमें भी अपना सहयोग प्रदान करते हैं। वही गुरुद्वारे के पूर्व की ओर विशाल हनुमान मंदिर है, जिसमें प्रतिवर्ष जन्माष्टमी का कार्यक्रम होता है और छटि का भंडारा होता है. हनुमान प्रबंधन समिति के अध्यक्ष अतुल रस्तोगी ने बताया कि कस्बा निवासी सभी के सहयोग से प्रत्येक कार्यक्रम होता हैं।

Loading...

हनुमान मंदिर के उत्तर की ओर नूर मस्जिद है, जिसमें प्रत्येक शुक्रवार को नमाज पढ़ी जाती है। मंदिर मस्जिद व गुरुद्वारा पास पास सोने के बावजूद भी सभी धर्मों के लोग एक साथ मिलकर सभी त्योहार मनाते हैं। और एक दूसरे का सहयोग करते हैं। कस्बे की खासियत यह भी है कि केतकी का फूल केवल मोहम्मदी कस्बे में ही खिलता है। केतकी के फूल की महक बहुत अधिक होती है। केतकी का फूल मोहम्मदी कस्बे के मेहंदी बाग में खिलता है।

रिपोर्ट-सुखविन्दर सिंह

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

गूगल प्ले स्टोर पर लिस्ट हुआ FAU-G, ऐसे करें प्री-रजिस्ट्रेशन

एक्शन गेम PUBG के रीलॉन्च से पहले भारत का देसी गेमिंग ऐप FAU-G लॉन्च होने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *