अफ्रीकी देश कांगो में हिंसक प्रदर्शन, यूएन शांति सेना की तरफ से तैनात दो भारतीय जवान हुए शहीद

नई दिल्ली। अफ्रीकी देश कांगो में यूएन की शांति सेना के खिलाफ लगातार हिंसक प्रदर्शन हो रहे हैं। उग्र प्रदर्शन के दौरान विद्रोही यूएन की शांति सेना के कैंप में घुस गए और फायरिंग शुरू कर दी। इस फायरिंग में भारत के दो और मोरक्को का एक जवान शहीद हो गये। सभी सैनिक यूएन पीसकीपिंग फोर्स का हिस्सा थे।

अफ्रीकी देश कांगो में हिंसक प्रदर्शन, यूएन शांति सेना की तरफ से तैनात दो भारतीय जवान हुए शहीद

गौरतलब है कि स्थानीय लोगों ने कांगो में यूएन पीसकीपिंग फोर्स के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन का आह्वान किया था। प्रदर्शनकारियों ने मोरोको रैपिड डिप्लॉयमेंट कैंप को चारों तरफ से घेर लिया। इसी कैंप में बीएसएफ की प्लाटून तैनात थी, हालांकि मौके पर कांगो पुलिस और एफआरडीसी के सैनिक पहुंचे लेकिन 500 से अधिक लोगों की अनुमानित भीड़ को नियंत्रित नहीं कर सके। मंगलवार को ये पूरी घटना हुयी इससे पहले सोमवार को भी बता दें कि कांगो में उपद्रवियों ने भारतीय सेना परिचालन ठिकानों, अस्पताल में लूटपाट का प्रयास किया था।

विदेश मंत्री एस.जयशंकर ने ट्वीट कर शहीदों को दी श्रद्धांजलि:

विदेश मंत्री एस० जयशंकर ने लिखा लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो में बीएसएफ के दो बहादुर भारतीय शांति सैनिकों के निधन पर गहरा दुख हुआ। वे मोनुस्को (लोकतांत्रिक गणराज्य कांगो में संयुक्त राष्ट्र मिशन) के हिस्सा थे। इन हमलों के अपराधियों को जवाबदेह ठहराया जाना चाहिए और उन्हें न्याय के कटघरे में खड़ा किया जाना चाहिए। शोक संतप्त परिवारों के प्रति मेरी संवेदना है।

गृहयुद्ध की मार झेल रहा है कांगो1999 से तैनात है भारतीय सेना:

कांगो गृहयुद्ध की मार झेल रहा है ऐसे में संयुक्त राष्ट्र के आदेश के मुताबिक साल 1999 से भारतीय सैनिक संवेदनशील छेत्र में शांति स्थापित करने के लिए लगातार प्रयास कर रहे हैं। फिलहाल कांगो में इस समय दुनिया की सबसे बड़ी शांति सेना तैनात है जिसमे अलग -अलग देशों से करीब 20 हजार सैनिक मोर्चा संभाले हुए हैं, इनमे भारत के भी चार हजार सैनिक तैनात हैं।

संयुक्त राष्ट्र मिशनों में भारत ने दिया विश्व में सबसे बड़ा योगदान:

कई वीर भारतीय सैनिकों ने विश्व में शांति और सद्भाव लाने के लिए अपने प्राण न्यौछावर कर दिए हैं। संयुक्त राष्ट्र मिशनों में विश्व में सबसे बड़ा योगदान भारत ने दिया है। भारत ने 49 शांति अभियानों में भाग लिया है साथ ही 1,95,000 सैनिक और बड़ी संख्या में पुलिस कर्मियों को तैनात किया गया है। विभिन्न संयुक्त राष्ट्र मिशन में भारत ने अब तक 15 फोर्स कमांडरों को प्रदान किया है। चलिए अब आपको बताते हैं कि संयुक्त राष्ट्र मिशनों में हमारे वीर सैनिकों ने कितने पुरूस्कार जीते हैं…
• परमवीर चक्र 01
• महावीर चक्र 06
• कीर्ति चक्र 02
• वीर चक्र 20
• शौर्य चक्र 09
• युद्ध सेवा पदक 04
• सेना पदक 32

(रिपोर्ट: शाश्वत तिवारी)

About reporter

Check Also

चतुरी चाचा के प्रपंच चबूतरे से…..सगरा कस्बा तिरंगे ते रंगा रहय

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें ककुवा ने प्रपंच का अगाज करते हुए कहा- ...