Breaking News

इंटरमीडिएट की टॉपर छात्राओं ने बढ़ाया आगरा का मान, बन गईं प्रेरणा स्रोत

आगरा। सामाजिक संस्था सेवा आगरा और महाकाली धर्मार्थ ट्रस्ट के संयुक्त तत्वावधान में बुधवार को बल्केश्वर स्थित संत रामकृष्ण कन्या महाविद्यालय में इस वर्ष इंटरमीडिएट की परीक्षा में अपनी मेधा का परचम लहराने वाली आगरा की टॉपर छात्राओं का अभिनंदन किया गया।

इंटरमीडिएट की टॉपर छात्राओं ने बढ़ाया आगरा का मान, बन गईं प्रेरणा स्रोत

यूपी बोर्ड में आगरा की सोनम शर्मा, सीबीएसई की रितिका जैन और आईएससी की पलक और काजल सिंघल को मिला सम्मान

यूपी बोर्ड से श्री नवल सिंह इंटर कॉलेज, सैयाँ की सोनम शर्मा, सीबीएसई बोर्ड से माउंट लिट्रा जी स्कूल की रितिका जैन और आईएससी बोर्ड से सेंट पैट्रिक्स की पलक सिंघल और काजल सिंघल सम्मान पाने वालों में शामिल रहीं। सम्मान की चमक उनके चेहरे पर साफ नजर आ रही थी।

सेवा आगरा के संस्थापक अध्यक्ष मुरारी लाल गोयल ‘पेंट’ संस्थापक सुमन गोयल, महाकाली धर्मार्थ ट्रस्ट के मुख्य प्रबंधक और ट्रस्टी मनमोहन चावला, ट्रस्टी रविकांत चावला और संत रामकृष्ण कन्या महाविद्यालय की प्राचार्य डॉo मोहिनी तिवारी ने चारों छात्राओं को फूल माला व दुपट्टा पहनाकर और अभिनंदन पत्र देकर सम्मानित किया और उज्ज्वल भविष्य के लिए अनेक शुभकामनाएँ दीं।

स दौरान आशा चावला, प्रिया कपूर, अनु चावला, डॉo एसपी सिंह और विजय वर्मा भी प्रमुख रूप से मौजूद रहे। डॉo सुषमा सत्संगी ने संचालन किया। कवि कुमार ललित मीडिया समन्वयक रहे।

समारोह में छात्राओं को आशीर्वाद प्रदान करते हुए सेवा आगरा के संस्थापक-अध्यक्ष मुरारी लाल गोयल ने कहा कि यही मेधावी बेटियाँ कल राष्ट्र निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका का निर्वाह करेंगी। भारत को पुनः विश्व गुरु बनाने में इन्हीं मेधावी बेटियों की शिक्षा और योग्यता मील का पत्थर साबित होगी।

महाकाली धर्मार्थ ट्रस्ट के मुख्य प्रबंधक एवं ट्रस्टी मनमोहन चावला ने कहा कि इन बेटियों ने आगरा का मान बढ़ाया है। अब ये हजारों बेटियों और युवाओं की प्रेरणा स्रोत बन गई हैं। सेवा आगरा की संस्थापक सुमन गोयल ने कहा कि हमारा उद्देश्य बेटियों की शिक्षा को प्रोत्साहन देने के साथ मेधावी बेटियों का हौसला बढ़ाना है ताकि उनकी मेहनत और सफलता का क्रम यूँ ही सतत बना रहे।

About reporter

Check Also

दुनिया में टीबी का हर चौथा रोगी भारतीय : डॉ. सूर्यकान्त

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें देश का हर पांचवां टीबी रोगी उत्तर प्रदेश ...