Breaking News

बिना पानी के दवा खाने से हो सकता है ऐसा

वैसे तो सभी हमेशा पानी के साथ ही दवाई का सेवन करते है लेकिनकभी किसी वक्त ऐसे आपने करने का कोशिश जरूर किया होगा क्योंकि ज्यादा व्यस्त होने के कारण लोग पानी का गिलास उठाने में आलस करते हैं. बिना पानी के दवा खाने के पीछे कोई भी कारण हो लेकिन ऐसा करना आपके स्वास्थ्य के लिए बिल्कुल भी अच्छा नहीं है.

ऐसा इसलिए नहीं कि यह आपके गले में फंसकर आपकी सांस रोक सकती हैं बल्कि यह आपके लिए  भी ज्यादा खतरनाक साबित हो सकती है. दवा को पानी से लेने की सलाह इसलिए दी जाती है ताकि इसे निगलने में सरलता हो  यह आपकी भोजन नलिका में न फंसे. अगर आप बिना पानी के दवा निगलते हैं तो इसे भोजन नलिका में फंसने की आसार बढ़ जाती है, जिसके कारण आपको परेशानी हो सकती है. बिना पानी के दवा निगलने से आपकी भोजन नलिका में सूजन  जलन हो सकती है औरसीने में जलन, सीने में दर्द जैसी समस्या हो सकती है. इतना ही नहीं यह रक्तस्त्राव का भी कारण बन सकती है.

ध्यान देने वाली बात ये है की इसके लाक्धन जल्दी नहीं दिखाई देते हैभोजन नलिका में दर्द की नसों की गैरमौजूदगी के कारण आपको तुरंत इसके लक्षण नहीं दिखाई देंगे. लेकिन अगर कोई दवा नीचे जाने के लिए अपना रास्ता नहीं बना पाती है तो यह भोजन नलिका के गम्भीर ऊतकों को नुकसान पहुंचा सकती है. दवा के ऊतकों को नुकसान पहुंचाने की स्थिति में डिहाइड्रेशन  अल्सर की शिकायत हो सकती है. अगर आप ऑस्टियोपोरोसिस के लिए दवा ले रहे हैं या फिर एंटी-बायोटिक ले रहे हैं तो परिणाम  भी ज्यादा खतरनाक हो सकते हैं.किसी भी अनचाही जटिलताओं से बचने का सबसे अच्छा उपाय है कि दवा लेते वक्त ढेर सारा पानी पानी. क्लीवलैंड क्लीनिक के मुताबिक, किसी भी आदमी को दवा खाते वक्त 250 एमएल पानी जरूर पीना चाहिए. इसके अतिरिक्त आपको हमेशा दवा लेते वक्त या तो खड़े होना चाहिए या फिर बैठकर दवा लेनी चाहिए. अगर आप लेटकर दवा लेंगे तो आपका दम भी घुट सकता है. इसी कारण से आपको सोने से 15 मिनट पहले दवा लेने की सलाह दी जाती है ताकि गोली आराम से आपकी भोजन नलिका से निकल जाए.

About Samar Saleel

Check Also

ये हैं भारत के 3 सबसे खूबसूरत हिल स्टेशन, जिनके बारे में नहीं जानते हैं ज्यादा लोग

ट्रैकिंग और कैंपिंग से लेकर गर्मियों में ठंडक के बीच सुकून वाली छुट्टी मनाने का ...