Bollywood : सिनेमा जगत की खुल्‍लमखुल्‍ला बातें!

मुंबई.बॉलीवुड Bollywood के चर्चित अभिनेता ऋषि कपूर ने अपनी बायोग्राफी में जिस तरह से अंडरवर्ल्‍ड डॉन दाऊद इब्राहीम से हुई मुलाकात सरीखे कई बड़े राज खोले है,उसने फिल्म जगत ही नही पूरे भारत में बवाल मचा रखा है। 

जिसके चलते ऋषि कपूर इन दिनों काफी चर्चा में हैं। ऋषि कपूर की तरह ही पहले भी कई सिने स्टार्स ने अपनी बायोग्राफी लिखकर रुपहले पर्दे के कई बड़े राज खोले हैं.आइए जानते है ऐसे ही पांच बायोग्राफिक्स को जिन्‍होंने बड़े-बड़े राज खोले हैं।

दिलीप कुमार-‘सब्स्टांस और शेडो’

मशहूर अभिनेता दिलीप कुमार द्वारा लिखी गयी ‘सब्स्टांस और शेडो’ में उन्होंने अभिनेत्री मधुबाला और अपनी नाकाम मोहब्‍बत का जिक्र किया है।

  • वह उनके प्‍यार में इस कदर मशगूल थे कि शूटिंग छोड़कर भी अक्सर मिलने पहुंच जाते थे।
  • इसमें शायरा बानो के जीवन के उन पलों को भी उजागर किया है जिन्‍हें शायद कोई नहीं जानता होगा।

रामगोपाल वर्मा- ‘गन्स एंड थाइज : द स्टोरी ऑफ माय लाइफ

फिल्‍ममेकर रामगोपाल वर्मा ने अपनी ऑटोबायोग्राफी ‘गन्स एंड थाइज : द स्टोरी ऑफ माय लाइफ’ में अपने साथ-साथ बॉलीवुड के 3 चेहरों का जिक्र किया है।

  • जिसमें अमिताभ बच्‍चन,श्रीदेवी और पोर्न स्‍टार टोरी ब्‍लैक शामिल हैं।
  • इसमें उन्होंने खुलासा किया उनकी सफल फिल्‍मों के पीछे डॉन दाऊद इब्राहीम का हाथ है।
  • पोर्न स्‍टार टोरी से बहुत ज्‍यादा इंस्‍पायर्ड हुए हैं,उन्‍होंने महसूस किया कि पोर्न स्‍टार की जिंदगी आसान नहीं होती।

देवआनंद- ‘रोमांसिंग विथ लाइफ’

अपने समय में लाखों दिलों की धड़कन कहे जाने वाले अभिनेता देवआनंद ने भी ‘रोमांसिंग विथ लाइफ’ नाम की ऑटोबायोग्राफी लिखी।

  • इसमें अपने जीवन के संघर्षों,अपनी रोमांटिक लाइफ,जीनत अमान और टीना मुनीम के अलावा अपने भाई विजय आनंद का जिक्र किया है।
  • देवआनंद ने इसमें लिखा है कि वक्त की करवटें कभी भी उनकी हस्ती पर अपने निशान नहीं छोड़ पाईं

शत्रुघ्न सिन्हा-‘एनीथिंग बट खामोश’

खामोश शब्‍द को एक अलग पहचान देने वाले अभिनेता शत्रुघ्न सिन्हा की लिखी किताब लोगों को खूब पसंद आई है।

  • किताब में लिखा कि एक दौर ऐसा था जब वह अमिताभ से काफी आगे थे,उस समय अमिताभ काफी परेशान होते थे।
  • जिसकी वजह से उस समय उन्‍होंने कई फिल्‍में भी छोड़ दी थीं।
  • दोस्ती और उसमें पड़ी दरार पर उन्होंने बड़ी बेबाकी से चर्चा की है.

नसरुद्दीन ‘एंड देन वन डे: ए मेमौर’

 इसमें उन्‍होंने अभिनेता ओमपुरी का जिक्र करते हुए लिखा है कि जब फिल्‍म “भूमिका” की शूटिंग हो रही थी उस समय ओमपुरी ने उनकी जान भी बचाई थी।

  • ओमपुरी एक बार रेस्टोरेंट में गए थे,तभी वहां किसी ने उन पर चाकू से उनपर हमला कर दिया।
  • वहां उनके साथ मौजूद ओमपुरी ने उनको इस हमले से बचाया।
  • इतना ही नहीं उन्‍होंने उनको अपनी गाड़ी से अस्पताल भी पंहुचाया था।

About Samar Saleel

Check Also

आज का दर्शक अधिक परिपक्व : Anil Kapoor

आज का दर्शक अधिक परिपक्व : Anil Kapoor

मुंबई। अभिनेता अनिल कपूर Anil Kapoor का कहना है कि भारतीय फिल्म उद्योग अच्छी पटकथा ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *