सोशल मीडिया से लेकर असल जिंदगी में भी बेहद चर्चित रही IAS बी. चंद्रकला

यूपी की चर्चित IAS बी. चंद्रकला को आपने यूट्यूब के वायरल वीडियो में देखा होगा। ऐसा नहीं है कि वो केवल यूट्यूब पर ही चर्चित रही हैं,बल्कि वो रियल लाइफ में भी खासी चर्चित रही हैं। जिस जिले में भी वह रहीं चर्चा में रहीं. कभी सेल्फी प्रकरण में तो कभी पत्रकार को धमकाने के लिए.

पूरे पांच साल तक बतौर डीएम तैनाती 

2008 बैच की आईएएस अफसर बी. चन्द्रकला अखिलेश सरकार की पसंदीदा अफसरों में से एक रही हैं। चन्द्रकला यूपी के उन आईएएस अफसरों में से एक हैं,जिन्हें समाजवादी पार्टी की सरकार में पूरे पांच साल तक कई जिलों के डीएम पद पर तैनाती दी गई।

अखिलेश सरकार बनने के एक महीने बाद चंद्रकला को हमीरपुर के डीएम पद पर तैनाती मिली। इसके बाद उन्हें मथुरा जैसे बड़े जिले की कमान दी गई और चार महीने के बाद ही उन्हें बुलंदशहर का डीएम बना दिया गया। यहां वो 2014 से 2016 तक रहीं, बाद में वो बिजनौर और मेरठ की डीएम रहीं।

ट्विटर पर 8.95 लाख फॉलोवर जबकि फेसबुक

चंद्रकला को सोशल मीडिया पर अपने कथित भ्रष्टाचार विरोधी अभियान के कारण चर्चा मिली थी। ट्विटर पर उनके 8.95 लाख फॉलोवर हैं जबकि फेसबुक पर 85 लाख से अधिक फॉलोवर हैं।

बुलंदशहर में सड़क निर्माण के दौरान बने एक वीडियो में वे ठेकेदार को हड़काती नज़र आई थीं। 2016 में एक लड़के ने उनके साथ कलेक्ट्रेट ऑफिस में सेल्फी लेने का प्रयास किया जिस पर लड़के को शांति भंग की धारा में जेल जाना पड़ा,हालांकि तीन दिन में उसे छोड़ दिया गया।

पत्रकार को दी धमकी

इसी मामले पर एक पत्रकार ने उन्हें फोन किया तो डीएम साहिबा ने उसे भी धमका दिया। इसका ऑडियो भी काफी वायरल हुआ था। मामला बाद में हाई कोर्ट तक भी पहुंचा और अभी लंबित है।

हमीरपुर की डीएम रहते हुए बी.चंद्रकला पर अदालती आदेश और सरकारी नियमों की अनदेखी कर खनन के पट्टे देने का आरोप लगा। शिकायत के आधार पर उनके ख़िलाफ़ जांच शुरू हुई और शनिवार को CBI ने उनके घर पर छापे मारी की। खनन प्रकरण में तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी जांच के घेरे में फिलहाल घिरते नजर आ रहे हैं।

कई आईएएस CBI के रेडार पर

CBI ने कई दस्तावेज, बैंक खाते और लॉकर के कागजात भी अपने कब्जे में लिए हैं। चंद्रकला के तेलंगाना के करीम नगर स्थित घर पर भी छापा मारा था। बी. चंद्रकला के साथ ही यूपी के कई आईएएस अधिकारी CBI के रेडार पर जिनपर जल्द सीबीआई का शिकंजा कस सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *