Breaking News

आर्टिकल 370 हटाए जाने के विरोध में पाक ने किया बड़ा ऐलान, जिसका ईद पर पड़ेगा बुरा असर

जम्मू और कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाए जाने के विरोध में पाक ने कदम का ऐलान किया है. पाक में ईद के विशेष कार्यक्रमों के प्रसारण पर रोक लगाने का ऐलान किया गया है. पाकिस्तान मीडिया नियामक प्राधिकरण ने मीडिया संस्थानों से बोला है कि वे ईद-उल-अजहा पर पहले से रिकॉर्ड किए कार्यक्रमों या विशेष कार्यक्रमों को लाइव प्रसारित न करें.

प्राधिकरण ने बोला इससे ‘न केवल हमारे राष्ट्र, बल्कि कश्मीरी भाइयों की भावनाओं को भी चोट पहुंच सकती है.‘ इस बारे में पाकिस्तान मीडिया से जानकारी मिल रही है.

नियामक प्राधिकरण ने जारी की अधिसूचना

नियामक प्राधिकरण ने इस विषय में शनिवार को एक अधिसूचना जारी की. इसमें बोला गया, ‘कश्मीर के साथ एकजुटता जताने के लिए, ईद-उल-अजहा को धार्मिक पर्व के रूप में सादगी के साथ मनाया जा रहा है. इसलिए, यह अनुरोध किया जाता है कि कोई विशेष प्रोग्राम (पहले से रिकॉर्ड या नियोजित लाइव) न हो. ईद के जश्न के रूप में प्रसारित होने के कारण इससे न केवल हमारे राष्ट्र, बल्कि कश्मीरी भाइयों की भावनाओं को भी चोट पहुंच सकती है.

15 अगस्त को पाकिस्तान का ‘काला दिवस’

अधिसूचना में बोला गया है कि पाक के स्वतंत्रता दिवस 14 अगस्त को बहादुर कश्मीरियों के साथ एकजुटता जताते हुए मनाया जाएगा. इसके साथ ही नियामक प्राधिकरण ने बोलाहै कि हिंदुस्तान के स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को काला दिवस के रूप में मनाया जाएगा  राष्ट्रीय झण्डा आधा झुका रहेगा. अधिसूचना में टीवी चैनलों को उस दिन ‘अपने लोगो ब्लैक एंड व्हाइट करने’ की सलाह दी गई है.

भारत सरकार के निर्णय के बाद हुई घोषणा

आपको बता दें कि इससे पहले आठ अगस्त को इलेक्ट्रॉनिक मीडिया नियामक ने खबर चैनलों को अपने टॉक शो में किसी भी भारतीय सेलिब्रिटी, राजनेता, पत्रकार  विश्लेषकों को आमंत्रित नहीं करने का आदेश दिया था. बताते चलें कि यह कदम हिंदुस्तान सरकार की ओर से पांच अगस्त को किए गए घोषणा के बाद आया है.

About News Room lko

Check Also

भूकंप के झटकों से तुर्की और सीरिया में भीषण तबाही, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें तुर्की और सीरिया में सोमवार को 7.8 तीव्रता ...