Breaking News

कुमारस्वामी के इस्तीफे के बाद कर्नाटक में भी हो सकता हैं BJP का राज

कर्नाटक में एकबार फिर बीजेपी सरकार बनाने के करीब है। 23 जुलाई को विधानसभा में विश्वासमत हासिल करने में नाकाम रहने पर कुमारस्वामी की सरकार गिर गई थी। चार दिन चली चर्चा के बाद मंगलवार शाम को आखिरकार विधानसभा में फ्लोर टेस्ट हुआ। इस दौरान स्पीकर को हटाकर सदन में विधायकों की संख्या 204 थी और बहुमत के लिए 103 का आंकड़ा जरूरी था। कांग्रेस-जेडीएस के पक्ष में 99 वोट पड़े, जबकि विरोध में 105 वोट पड़े। कुमारस्वामी 14 महीने से 116 विधायकों के साथ सरकार चला रहे थे, लेकिन इसी महीने 15 विधायक बागी हो गए। राज्यपाल ने एचडी कुमारस्वामी के इस्तीफे को स्वीकार कर लिया। अब यदि बीजेपी सरकार बनती है, तो येदियुरप्पा चौथी बार मुख्यमंत्री हो सकते हैं।कर्नाटक में इसबार सरकार बनाने को लेकर बीजेपी हाईकमान पूरे मामले पर फूंक-फूंक कर कदम रख रहा है। जानकारी के मुताबिक मौजूदा हालात में बीजेपी केंद्रीय नेतृव पिछली बार की तरह इस बार अपनी किरकिरी नहीं करवाना चाहता।  फिलहाल कर्नाटक विधानसभा मे बहुमत बीजेपी के साथ है। बहुमत के लिए 103 विधायक चाहिए। 2 निर्दलियों के साथ बीजेपी के पास 107 विधायक हैं, लेकिन अगर आधे दर्जन विधायक बगावत छोड़कर कांग्रेस के साथ आ खड़े हुए और स्पीकर ने निर्दलीय शंकर के खिलाफ दलबदल कानून के तहत कार्रवाई की तो विधानसभा में तस्वीर बदल जाएगी। लिहाजा बीजेपी केंद्रीय नेतृत्व हालात पर पैनी नजर बनाए हुए है।

बीजेपी चाहती है कि जब कर्नाटक में सरकार गठन पर स्थिति साफ हो जाए, और सभी विधायक अपने पक्ष में आ जाएं तो बीजेपी सरकार बनाने का दावा पेश करे।इसी कड़ी में जगदीश शेट्टार, बसवराज बोम्मई, अरविंद लिंबावली समेत कर्नाटक बीजेपी के कई बड़े नेता दिल्ली पहुंच चुके हैं। ये लोग आज अध्यक्ष अमित शाह और पार्टी के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा से मुलकात करेंगे। बताया जा रहा है कि इस मुलाकात में यह फैसला होगा कि कर्नाटक का नया मुख्यमंत्री कौन होगा। बताया जा रहा है कि कुमारस्वामी की सरकार गिरने के बाद कर्नाटक बीजेपी सरकार बनाने का दावा पेश तो करना चाहती है, लेकिन इसके लिए जल्दबाजी में नहीं है। माना जा रहा है कि कर्नाटक बीजेपी के अध्यक्ष बीएस येदियुरप्पा ही कर्नाटक के मुख्यमंत्री होंगे, लेकिन पार्टी हाईकमान से ऐसा कोई फैसला नहीं आया है।

Loading...

इससे पहले येदियुरप्पा ने मंगलवार रात बीजेपी अमित शाह को भी पत्र लिखा था। उन्होंने अपने पत्र में लिखा था कि ‘मैं यह बताते हुए काफी खुशी महसूस कर रहा हूं कि मुख्यमंत्री एचडी कुमारस्वामी की तरफ से पेश विश्वास मत में हमने उन्हें हरा दिया है, जिससे कर्नाटक में हमारी पार्टी की सरकार बनने का रास्ता साफ हो गया है।’ उन्होंने कहा कि इस वक्त पार्टी के 105 विधायक ‘चट्टान’ की तरह हमारे साथ खड़े हैं। उन्होंने कहा, ‘पिछले कुछ दिनों से विभिन्न राजनीतिक कारणों से हमारे लिए यह परीक्षा की घड़ी थी, लेकिन इन सभी चुनौतियों से पार पाते हुए हमने विश्वास मत में उन्हें पराजित कर दिया।’ येदियुरप्पा ने पत्र में आगे लिखा, ‘पार्टी के सदस्यों से ज्यादा राज्य के लोगों ने राहत की सांस ली है, क्योंकि गठबंधन सरकार के खराब प्रशासन से से ऊब चुके थे।’

Loading...

About News Room lko

Check Also

जिलाधिकारी ने प्राथमिक स्कूलों का निरीक्षण किया

औरैया। जिलाधिकारी अभिषेक सिंह ने आज मिशन कायाकल्प के तहत विकास खण्ड एरवाकटरा और बिधूना ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *