Wednesday , September 18 2019
Breaking News

राजस्थान : लगातार बारिश के कारण बाढ़ जैसे हालात

जयपुर। राजस्थान के कई जिलों में पिछले 48 घंटे से जारी लगातार बारिश के कारण बाढ के हालात बन गए है। जयपुर, अजमेर, भीलवाडा, सीकर, दौसा, कोटा, बारां, नागौर, अलवर सहित कई जिलों में नदी नाले उफान पर है। चम्बल नदी सवाई माधोपुर और धौलपुर में खतरे के निशान से उपर बह रही है। अजमेर, पुष्कर, बारां सहित कई जिलों में बाढ़ की स्थिति बन गई है। राजधानी जयपुर में रिमझिम बारिश का दौर चलता रहा। कुछ स्थानों पर तेज बारिश भी हुई। बारिश ने जनजीवन अस्तव्यस्त कर दिया।

चित्तौड़गढ़ में बारिश जारी

चित्तौड़गढ़ में बारिश का दौर जारी रहा। बारिश के कारण पानी की लगातार आवक से लबालब हुए गंभीरी बांध के 4 छोटे व घोसुण्डा बांध के 2 बड़े गेट खोले गए। बारिश के कारण सवाई माधोपुर में चंबल नदी का जलस्तर खतरे के निशान से एक मीटर ऊपर चला गया। जिला प्रशासन ने अलर्ट जारी कर दिया। जिले के सभी विभागों के अधिकारियों-कर्मचारियों के अवकाश निरस्त कर उन्हें मुख्यालय नहीं छोड़ने के निर्देश दिए गए हैं।

सीकर में देर रात से बारिश का दौर जारी होने से शहर के निचले हिस्सों में पानी भर गया। जिले के नीमकाथाना के डाबला अंडरपास में सवारियों से भरी एक बस फंस गई। वहीं लोसल कस्बे में तेज बरसात से निचले इलाकों में पानी भर गया। बारां में बाढ़ के कारण क्षेत्र के दर्जनों मकान टूट गए। नागौर जिले मे गत 12 घंटे से ज्यादा समय से लगातार बारिश हो रही थी। जिले के रियांबड़ी, डीडवाना और परबतसर तहसील में मूसलाधार बारिश हुई।

बारिश के कारण हादसों की संख्या भी लगातार बढ़ती जा रही है। दौसा में बारिश से स्कूल के दो कमरे गिर गए. वहीं अजमेर के किशनगढ़ में एक युवक पानी में बह गया, जिससे उसकी मौत हो गई। नागौर के रियांबड़ी तहसील के थांवला कस्बे के पास हाई-वे नंबर-89 पर कटाव हो गया। परबतसर के भादवा गांव में एक खेत में बना मकान पानी में डूब गया। पादूकलां कस्बे में पुलिस थाने, सीएचसी व मार्गों पर लबालब पानी भर गया।

About Samar Saleel

Check Also

केदारनाथ धाम में यात्रियों की आमद बढ़ने से इस वर्ष मंदिर की आय में आया जबरदस्त उछाल

केदारनाथ धाम में यात्रियों की आमद बढ़ने से इस वर्ष मंदिर की आय में भी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *