चीन में चलेगी Shi Jinping की ‘दादागिरी’

बीजिंग। चीन में अब Shi Jinping की दादागिरी चलेगी। संसद का सालाना सत्र सोमवार, 5 मार्च से शुरू हो गया है। इस दौरान राष्ट्रपति शी जिनपिंग के लिए दो कार्यकाल की सीमा को हटाने संबंधी विवादित प्रस्ताव का अनुमोदन दिया जा सकता है। इसके साथ राष्ट्रपति के विचारों को भी संविधान में स्थान दिया जाएगा।

  • बीजिंग में नेशनल पीपुल्स कांग्रेस के दो हफ्ते तक चलने वाले सत्र में देशभर से करीब 3,000 सांसद शामिल होंगे।
  • सत्र से पहले सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ चाइना ने राष्ट्रपति और उप राष्ट्रपति के लिए दो कार्यकाल की सीमा हटाने का प्रस्ताव दिया है।

Shi Jinping के बेमियादी कार्यकाल का बचाव

राष्ट्रपति पद पर शी जिनपिंग के अनिश्चितकाल तक बने रहने के प्रस्ताव का चीन ने बचाव किया है। चीन की सरकार ने रविवार को कहा था कि सत्तारूढ़ कम्युनिस्ट पार्टी के प्रभुत्व को बरकरार रखने के साथ ही नेतृत्व की एकता के लिए यह कदम जरूरी है।

  • पार्टी बीते करीब दो दशक से कार्यकाल सीमा का पालन कर रही है।
  • यह व्यवस्था तानाशाही से बचने और एकल पार्टी वाले देश में सामूहिक नेतृत्व सुनिश्चित करने के लिए बनाई गई थी।
  • एनपीसी के उद्घाटन सत्र में 64 वर्षीय शी जिनफिंग, प्रधानमंत्री ली केकियांग और अन्य नेता शामिल हुए थे।

सेना पर चीन भारत से 3 गुना अधिक खर्च करेगा

चीन ने इस वर्ष रक्षा बजट में 8.1 प्रतिशत की वृद्धि कर दी है। इसे 175 अरब डॉलर किये जाने की सोमवार, 5 मार्च को घोषणा की गई। जो भारत के हालिया रक्षा बजट का तीन गुना है।

  • भारत का रक्षा बजट 52.5 अरब डॉलर का है।
  • बजट रिपोर्ट के अनुसार चीन रक्षा बजट को 2018 में 8.1 प्रतिशत तक बढ़ाएगा।
  • वहीं पिछले साल चीन ने इसमें सात प्रतिशत की वृद्धि की थी।

About Samar Saleel

Check Also

उत्तर कोरिया ने किम-जोंग की निगरानी में नए ‘रॉकेट लॉन्चर’ का किया परीक्षण

उत्तर कोरिया ने एक बार फिर अपने नेता किम-जोंग-उन की निगरानी में एक नए ‘रॉकेट ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *