संविधान और कानून व्यवस्था से ऊपर योगी मोदी सरकार : AAP

आम आदमी पार्टी (AAP) के उत्तर प्रदेश प्रभारी एवं राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने अवध प्रांत के सभी जिला अध्यक्षों, संगठन सचिव और प्रकोष्ठों के समस्त पदाधिकारियों के साथ कानपुर में एकदिवसीय प्रशिक्षण शिविर व बैठक कर संगठन की समीक्षा की|

AAP के उत्तर प्रदेश प्रभारी ने भाजपा पर जमकर निशाना साधा

उत्तर प्रदेश प्रभारी संजय सिंह ने प्रेसवार्ता की जिसके दौरान उन्होंने भाजपा की प्रदेश और केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा और कहा योगी सरकार मुजफ्फरनगर दंगें में शामिल लोगों को बचाने के लिए इस मामले को वापस ले रही है, ये बड़ा दुर्भाग्यपूर्ण हैं | उन्होंने मोदी योगी सरकार को संविधान और कानून व्यवस्था से ऊपर बताया।

धर्म के नाम पर हो रही राजनीति

संजय सिंह ने कहा कि भाजपा सरकार धर्म के नाम पर नफरत फैलाकार हिन्दू –मुसलमानों को आपस में लड़ाने का काम कर जनता के वास्तविक मुद्दों से ध्यान हटा रही है | अवध प्रांत की अध्यक्ष ब्रिज कुमार ने बताया कि बैठक में निर्णय लिया गया कि पार्टी कौमी एकता और आपसी भाईचारा को लेकर जिलों में जागरूकता अभियान और भाजपा की पोल खोल अभियान चलाकर भाजपा को बेनकाब करेगी।

प्रदेश की जनता के साथ किया गया खिलवाड़

आप के प्रवक्ता ने कहा की मुख्यमंत्री योगी कभी कहते हैं कि ईद नहीं मनाता हूँ, कभी कहते हैं जन्माष्टमी धूम धाम से मनाइए लेकिन प्रदेश में 06 साल की बच्ची के साथ बलात्कार रोकने में सक्षम नहीं, बरेली में बलात्कार पीड़ित ने न्याय नहीं मिल पाने की वजह से आत्महत्या कर ली।

वहीँ भाजपा के विधायक, सांसद पुलिस अधिकारियों के साथ गाली गलौज और मारपीट कर रहे हैं |व्यापारी, किसान, नौजवान और महिलायें सभी भाजपा सरकार से बेहद परेशान है | किसानों को कर्जमाफी के नाम पर योगी सरकार ने एक रुपया, दो रुपया की चेक देकर उनके साथ छल और क्रूर मजाक किया है | योगी सरकार में बिजली की दरों में बेतहाशा वृद्धि कर दी गई और शिक्षा और स्वास्थ्य के क्षेत्र में प्रदेश बुरी तरह से पिछड़ चुका है |
ये सभी घटनाए इस बात को दर्शाती हैं कि प्रदेश में कानून नाम की कोई चीज बची नहीं है |

 

चुनाव आयोग पर भी साधा निशाना

संजय सिंह ने केंद्र सरकार और चुनाव आयोग पर दो टूक कहते हुए कहा कि लोकसभा 2019 का चुनाव निष्पक्ष नही होगा। उन्होंने कहा की चुनाव आयुक्त ए के ज्योति भाजपा के एजेंट की तरह काम कर रहे हैं | चुनाव आयोग ने केंद्र सरकार के इशारे पर दिल्ली सरकार के 20 विधायकों का जल्दबाजी में बिना पक्ष सुने ही उन पर बड़ी कार्यवाही कर दी | उन्होंने मांग की है कि लोकसभा का चुनाव EVM से न कराकर बैलेट पेपर से कराया जाए |

About Samar Saleel

Check Also

दलित छात्र-छात्राओं का हो रहा है उत्पीड़न : चंद्रशेखर

लखनऊ। शिक्षण संस्थाओं में बहुजन छात्र-छात्राओं को कथित जातिवादी मानसिकता और उत्पीड़न से बचाने के ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *