देश में अब तक लगी 12.69 करोड़ वैक्सीन की डोज, स्वास्थ्य मंत्रालय ने दी जानकारी

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि सोमवार शाम तक भारत में पात्र लोगों को कोरोना वायरस संक्रमण रोधी टीके की 12.69 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी हैं. मंत्रालय ने बताया कि सोमवार को 73,600 कोविड-19 टीकाकरण केंद्र संचालित हुए, जो अब तक सबसे बड़ी संख्या है. मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि कार्यस्थल पर टीकाकरण भी बड़ी संख्या में टीके लगने का एक कारण है. शाम आठ बजे तक की रिपोर्ट के अनुसार देश में लोगों को कोविड रोधी टीके की 12,69,56,032 खुराक दी गईं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड-19 से लड़ाई में टीकाकरण को सबसे बड़ा हथियार बताते हुए सोमवार को देशभर के चिकित्सकों से अधिक से अधिक लोगों को टीका लगवाने के लिए प्रोत्साहित करने का आग्रह किया. साथ ही उन्होंने चिकित्सकों से कोविड के उपचार और रोकथाम को लेकर उड़ रही अफवाहों के खिलाफ लोगों को शिक्षित करने की भी अपील की.

तेजी से बढ़ते कोविड-19 के मामलों के मद्देनजर प्रधानमंत्री ने देश के अग्रणी चिकित्सकों और दवा निर्माता कंपनियों के प्रतिनिधियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से अलग-अलग बैठकें कीं. इस दौरान पीएम मोदी ने महामारी की मौजूदा स्थिति के साथ ही टीकाकरण अभियान की भी समीक्षा की.

केंद्र सरकार ने सोमवार को कहा कि एक मई से 18 साल से अधिक उम्र के सभी लोग कोविड-19 से रोकथाम के लिए टीका लगवा सकेंगे. सरकार ने टीकाकरण अभियान में ढील देते हुए राज्यों, निजी अस्पतालों और औद्योगिक प्रतिष्ठानों को सीधे टीका निर्माताओं से खुराक खरीदने की अनुमति भी दे दी. अगले महीने से शुरू हो रहे टीकाकरण अभियान के तीसरे चरण के तहत टीका निर्माता अपनी केंद्रीय औषधि प्रयोगशालाओं (सीडीएल) से हर महीने जारी खुराकों की 50 प्रतिशत आपूर्ति केंद्र सरकार को देंगे और बाकी 50 प्रतिशत आपूर्ति को वे राज्य सरकारों को तथा खुले बाजार में बेचने के लिए स्वतंत्र होंगे.

About Aditya Jaiswal

Check Also

बन्धन से आजादी की ओर विषय पर हुयी परिचर्चा, चला स्वच्छता अभियान

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें लखनऊ। भारत सरकार व राज्य सरकार द्वारा दिए ...