Breaking News

एसिडिटी जैसे ये लक्षण कहीं हार्ट अटैक की तरफ इशारा तो नहीं?

एसिडिटी, लाइफस्टाइल और आहार में गड़बड़ी के कारण होने वाली समस्या है, जो काफी असहज करने वाली स्थिति हो सकती है। एसिडिटी के कारण पाचन स्वास्थ्य से संबंधित कई तरह की समस्याओं के होने का भी खतरा रहता है। इसमें आमतौर पर खाने के बाद सीने में जलन की समस्या, पेट में दर्द और ऐंठन होने लगती है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, एसिडिटी का मुख्यकारण भोजन का सही तरीके से पाचन न हो पाना माना जाता है, इसके लक्षणों पर ध्यान देकर समय रहते इलाज कराना आवश्यक हो जाता है। पर क्या आप जानते हैं कि एसिडिटी के कई लक्षण अन्य बीमारियों से भी मिलते-जुलते हो सकते हैं, जिसके बारे में ध्यान देना आवश्यक हो जाता है।

स्वास्थ्य विशेषज्ञ कहते हैं, हृदय रोगों, विशेषकर हार्ट अटैक के कई लक्षण एसिडिटी जैसे ही हो सकते हैं। यही कारण है कि दिल के दौरे के प्रमुख लक्षणों को गलत तरीके से एसिडिटी या गैस्ट्रिक की समस्या समझ लिया जाता है। वहीं अगर हार्ट अटैक की स्थिति की समय पर पहचान की जाए और इसका उपचार न किया जाए तो इसके कारण मृत्यु का भी खतरा हो सकता है।

आइए जानते हैं कि हार्ट अटैक के कौन से लक्षण एसिडिटी जैसे ही हो सकते हैं, जिनपर गंभीरता से ध्यान दिया जाना और समय पर इलाज कराना आवश्यक हो जाता है?
दोनों समस्याओं के लक्षण हो सकते हैं एक जैसे

शोधकर्ता बताते हैं, हार्ट अटैक भले ही हृदय रोगों के कारण होने वाली समस्या है, पर इसमें होने वाली कुछ दिक्कतें पाचन स्वास्थ्य में गड़बड़ी के कारण होने वाले लक्षणों से मिलते-जुलते हो सकते हैं। दोनों स्वास्थ्य समस्याओं में जो लक्षण सबसे कॉमन है वो है- बर्निंग सेंसेशन। अक्सर इस लक्षण को लेकर लोग कंफ्यूज हो जाते हैं। हालांकि यहां गौर करने वाली बात ये है कि एसिडिटी के कारण होने वाली हार्ट बर्न की समस्या कुछ समय में ठीक हो जाती है, जबकि हार्ट अटैक के कारण होने वाली ये दिक्कत जानलेवा दुष्प्रभावों वाली मानी जाती है।

About News Desk (P)

Check Also

चिलचिलाती धूप से काले पड़ रहे हैं हाथ तो अपनाएं ये घरेलू नुस्खे

गर्मी के इस मौसम में तेज धूप से हर कोई काफी परेशान रहता है। लोग ...