Breaking News

भीमा मंडावी की हत्या, एनआईए करेगी भीमा मंडावी केस की जांच

छत्तीसगढ़ उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश की युगल पीठ ने बुधवार को दंतेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी की हत्या के मामले की जांच राष्ट्रीय जांच एजेंसी :एनआईए: से कराए जाने के खिलाफ राज्य शासन की रिट अपील को ख़ारिज कर दिया। उच्च न्यायालय ने एकल पीठ के 23 अक्टूबर के फैसले को बरकरार रखते हुए कहा कि भीमा मंडावी केस की जांच एनआईए ही करेगी। न्यायालय ने बीते 13 नवम्बर को इस प्रकरण में बहस के बाद आदेश सुरक्षित रख लिया था। छत्तीसगढ़ के महाधिवक्ता सतीश चन्द्र वर्मा के कार्यालय से जारी सूचना के अनुसार उच्च न्यायालय में मुख्य न्यायाधीश पी. आर. रामचंद्र मेनन और न्यायमूर्ति पी. पी. साहू ने निर्णय दिया कि एनआईए एक्ट केंद्र शासन द्वारा बनाया गया है और उसमें दिए गए प्रावधान से स्पष्ट है कि प्रकरण की जांच सिर्फ एनआईए ही कर सकती है।

अपने जेट पर प्रहार होने से पहले विंग कमांडर अभिनंदन ने पाकिस्तान के एफ-16 को मार गिराया था। अभिनंदन को पाकिस्तान ने एक मार्च की रात को रिहा कर दिया था।

धनोआ ने यहां इंडिया टुडे के सम्मेलन कहा कि वह अभिनंदन को बचपन से जानते हैं क्योंकि वह उनके पिता के साथ काम कर चुके हैं जो वायुसेना के पूर्व कर्मी हैं।

उन्होंने कहा, ”कारगिल में हम फ्लाइट कमांडर अजय आहूजा को गंवा बैठे थे। वह (अपने जेट से) निकले थे लेकिन जब वह (सीमापार पाकिस्तान में) उतरे तो उन्हें गोली मार दी गयी थी… यही मेरे दिमाग में चल रहा था।”

उन्होंने कहा, ”मैंने अभिनंदन के पिता से कहा कि हम आहूजा को वापस नहीं ला सके लेकिन अभिनंदन को जरूर लायेंगे। लेकिन इसका श्रेय राष्ट्रीय नेतृत्व को जाता है कि हम रिकार्ड समय में अभिनंदन को ला सके।”

जब उनसे हाल ही विंग कमांडर अभिनंदन के साथ उनकी उड़ान के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ” वर्दी उतारने (सेवानिवृत होने) से पहले मैं एक उड़ान भरना चाहता था। अभिनंदन को चिकित्सकों ने अनुमति दे दी थी। वह पीछे बैठ गये और मैं आगे की सीट पर।”

वायुसेना प्रमुख धनोआ इस मासांत सेवानिवृत होने वाले हैं।

पाकिस्तान द्वारा अभिनंदन को पकड़ लिये जाने को याद करते हुए उन्होंने कहा कि हिरासत के दौरान इन पायलट का व्यवहार असाधारण था।

उन्होंने कहा, ” कुछ वीडियो में उसे आंखों पर पट्टी बांधे हुए दिखाया गया। हमें मालूम था कि आहूजा नहीं लौट पाये। अभिनंदन का व्यवहार, हाव-भाव और जिस दृढ़ता के साथ वह बोल रहे थे, ये सारी चीजें उनकी सैन्य क्षमता को बंया कर रही थीं।”

अभिनंदन के विमान से पाकिस्तान के एफ-16 विमान को मार गिराये जाने को लेकर उत्पन्न विवाद के बारे में एक सवाल के जवाब में वायुसेना प्रमुख ने कहा, ” दुर्भाग्य से अभिनंदन का विमान नहीं लौट सका।”

उन्होंने कहा, ” हमें (पाकिस्तानी विमान को) मार गिराये जाने का वीडियो मिल गया होता। लेकिन अपनी बात के पक्ष में हमने रडार तस्वीर पेश की और यह कि जब अभिनंदन करीब थे, उसी दौरान ट्रैक गायब हो गया। ”

पाकिस्तान द्वारा घटना (एफ-16 का गिराया जाना) से बिल्कुल ही नकारे जाने के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ”पाकिस्तान ने करगिल में अपने लोगों को स्वीकार करने से इंकार कर दिया था। सेना पूरे धार्मिक रीति-रिवाज के साथ शवों को दफनाया था।”

धनोआ ने कहा कि शीघ्र ही वायुसेना के बेड़े में शामिल होने जा रहे राफेल लड़ाकू जेट विमान पासा पलटने वाले साबित होंगे।

उन्होंने कहा कि ये फ्रांसीसी जेट वैमानिकी, हथियार, मिसाइल, और डाटा मेल के संदर्भ में आधी पीढ़ी आगे हैं।

जब उनसे भारत के साथ परमाणु युद्ध और सैन्य टकराव के संबंध में पाकिस्तान के हाल के बयानों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने कहा, ” भारतीय वायुसेना सैन्य टकराव के लिए पूरी तरह तैयार है। स्थिति कैसे आगे बढ़ती है, इस पर राजनीतिक नेतृत्व को निर्णय लेना है।”

एयर चीफ मार्शल धनोआ ने कहा, ”जब मार्च, 2017 में मैंने (वायुसेना प्रमख) की कमान संभाली थी तब मैंने अपने अधिकारियों को लिखा था कि यदि दूसरा पक्ष फैसला करता है तो संक्षिप्त अंतराल में हमें लड़ाई लड़ने के लिए तैयार रहना चाहिए। यह उनके लोगों के लिए पुरानी राग अलापने के समान है। लेकिन हमें मालूम है कि उनकी क्षमता क्या है। यह दो मोर्चो की लड़ाई नहीं है।”

About News Room lko

Check Also

डॉक्टर 365 बॉलीवुड महाआरोग्य शिविर में पीबीसी एजुकेशन एंड फाइनेंशियल सर्विसेज ने की सहयोग देने की पहल

मुंबई (अनिल बेदाग)। पीबीसी एजुकेशन एंड फाइनेंशियल सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड ने ‘डॉक्टर 365 बॉलीवुड महा ...