Breaking News

एसिड अटैक से घायल महिला से मिले मुख्यमंत्री

लखनऊ- शुक्रवार के दिन सूबे के मुख्यमंत्री  आदित्यनाथ “योगी”  गैंगरेप और एसिड अटैक की शिकार महिला से लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी में मुलाकात की। गैंगरेप और एसिड अटैक की शिकार महिला से लखनऊ के किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के गांधी वार्ड में भर्ती है जहां महिला की हालत गंभीर बनी हुई है। बताते चले पीड़ित महिला के साथ बीते वर्ष 2008 मे कुछ दबंगों ने समूहिक दुराचार किया था उसके बाद महिला के ऊपर एसिड फेंक दिया था । इस दौरान ये महिला बच गई थी और 8 साल से इंसाफ के लिए लड़ रही है। इस बीच महिला पर केस वापस लेने के लिए लगातार धमकियां मिल रही थी, लेकिन पीड़िता ने इंसाफ के लिए अपना संघर्ष जारी रखा। पर गुरुवार (23 मार्च) को बदमाशों ने महिला पर फिर हमला किया और उसे एसिड पीने को मजबूर किया। हमले के वक्त महिला ट्रेन में थी और ऊंचााहार से अपने बच्चों से मिलकर वापस आ रही थी। तभी ट्रेन में ही बदमाशों ने उस पर दोबारा हमला कर दिया।

सीएम ने जिस महिला से मुलाकात की है, इंसाफ के लिए उसकी संघर्ष की कहानी बेहद दर्दनाक है। इस महिला के साथ रायबरेली में 2008 में कुछ बदमाशों ने गैंगरेप की घटना को अंजाम दिया था, और इस पर एसिड भी फेंक दिया था। पुलिस ने इस केस में तीन आरोपियों को गिर ़तार किया था।

इस घटना के बाद महिला की हालत गंभीर बनी हुई है, और उसका मेडिकल कालेज के गांधी वार्ड में उसका इलाज चल रहा है, सीएम ने महिला और उसके परिजनों से मुलाकात और केस में इंसाफ का भरोसा दिलाया। सीएम ने पीडि़त परिवार के लिए सीएम ने एक लाख रुपये मुआवजे का भी ऐलान किया है। इसके साथ पुलिस को हमलावरों को जल्द गिर तार करने का आदेश दिया है। सीएम से मुलाकात के बाद पीडि़त के परिवार में न्याय की आस बंधी है। पीडि़ता के पति ने बताया कि, ये अच्छा है कि सीएम ने हमलोगों से मुलाकात की है, लेकिन हम चाहते हैं कि आरोपी जल्द से जल्द पकड़े जाएं। पीडि़ता के पति ने कहाकि गरीब होने के बावजूद मैं 8 सालों से केस लड़ रहा हूं ताकि मैं अपने पत्नी को इंसाफ दिला सकूं। ये महिला एसिड हमले के पीडि़तों द्वारा चलाये जा रहे एक कैफे में काम करती है।

 

Loading...

मुख्यमंत्री ने दिया 1 लाख की आर्थिक मदद , वर्ष 2014 अधिनियम के तहत और मिलेगा 5 लाख रुपये

शुक्रवार को मुख्यमंत्री ने पीड़िता से मुलाक़ात कर तत्काल 1 लाख रुपये का ऐलान कर दिया वही मुख्य सचिव राम यादव ने बताया कि वर्ष 2014 अधिनियम के तहत एसिड एटैक पीडि़ता महिला को राज्य सरकार द्वारा पांच लाख रुपये का मुआवजा दिया जायेगा। साथ ही उनके इलाज किसी भी अस्पतालों में मु त होगा। रायबरेली के डीएम ओर एसपी से कहा गया है कि जल्द से जल्द उसकी अैपचारिता पूरी की जाये ताकि महिला को लाभ मिल सके।
चार सस्पेंड आरपीएफ  कांस्टेबल स्पेण्ड, दो गिरफ्तार
महिला को ट्रेन में तेजाब पिलाने के मामले में आरपीएफ के कांस्टेबल

  1. कांस्टेबल बाबू लाल
  2. कांस्टेबल मनीन्द्र यादव
  3. कांस्टेबल अनिल कुमार
  4. कांस्टेबल अशोक कुमार

को सस्पेंड कर दिया गया है। इस पूरे मामले की जांच आईजी लखनऊ ए. सतीश गणेश की दी गई है।  इस स बंध में मुख्य सचिव होम मनी राम यादव ने बताया कि वही डीजीपी लखनऊ से वार्ता करेंगे कि मामले की जांच 15 दिन के अंदर प्रस्तुत की जाये।  इस स बंध में जीआरपी पुलिस द्वारा  अभियुक्त भोंदू सिंह, भाई गुड्डू पुत्रगण त्रिभुवन सिंह निवासी सवइयाधनी थाना ऊंचाहार, रायबरेली को गिरफ्तार किया गया है। यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर दलजीत सिंह चौधरी ने कहा कि पीडि़ता को सुरक्षा मुहैया करवाई गई है।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

IPS अमिताभ ठाकुर ने ऑफिस टाइम में निजी काम से अदालतों में जाने की सूचना RTI में देने से किया मना

लखनऊ। स्टेशनरी खर्चे और सरकारी गाड़ियों की लॉग बुक्स की जानकारी आरटीआई में नहीं देने ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *