Breaking News

लाठी लेकर खेतों में उतरे डीसी और एसपी नष्ट की तैयार फसल कहा- ग्रामीण न करें खेती

झारखंड के कई जिलों में बड़े पैमाने पर अवैध रूप से अफीम की खेती की जाती है। प्रशासन द्वारा अभियान चलाकर अफीम की फसल को नष्ट भी किया जाता रहा है। खूंटी जिले में भी बड़ी तादाद में अफीम की फसल तैयार की गई है। प्रशासन द्वारा अब तक 400 एकड़ से अधिक अफीम की फसल नष्ट की जा चुकी है।

बुधवार को खूंटी जिले के डीसी और एसपी भी लाठी लेकर अफीम की खेती नष्ट करने के लिए खेतों में उतरे। वे बुधवार को अड़की प्रखंड के तोड़ांग पंचायत अंतर्गत बडानी गांव पहुंच । इस इलाके में जिले के उपायुक्त शषि रंजन और एसपी अमन कुमार के नेतृत्व में लगभग पांच एकड़ भूमि में लगी अफीम की फसल को नष्ट किया गया।

उपायुक्त ने स्थानीय ग्रामीणों को अफीम की खेती से होने वाले दुष्परिणाम के संबंध में जानकारी दी। कहा कि अफीम की खेती और कारोबार करने वाले के खिलाफ कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने ग्रामीणों को अफीम की खेती त्याग कर वैकल्पिक खेती करने का अपील की। किसानों से कहा गया कि ग्राम सभा के माध्यम से उचित योजना का चयन करें और लाभ उठाएं।

उन्होंने कहा कि जिले में पर्यटन को बढ़ावा दिया जा रहा है। इसके लिए दस ग्रामीणों की सूची बनाकर उपलब्ध करायें। जिन्हें प्रशिक्षण के लिए रांची भेजा जायेगा। अड़की प्रखंड में भी पर्यटन की संभावनाओं की तलाश जा रही है, इस दौरान उन्होंने जरूरतमंदों के बीच सरसों का बीज और कंबल का वितरण किया।

About News Room lko

Check Also

सामुदायिक रेडियो पर गूंजेगी आवाज़ “फरवरी दस, याद रखना बस”

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें दिल्ली। देश में फाइलेरिया उन्मूलन कार्यक्रम की सफलता ...