Breaking News

पश्चिमी देशों में गहरे मतभेद

सीरिया पर घातक रसायनिक हथियारों का उपयोग करने का आरोप लगाने वाली एक रिपोर्ट को लेकर रूस और पश्चिमी देशों के बीच गहरे मतभेद सामने आए हैं। मास्को ने रिपोर्ट के निष्कर्षों को ‘‘मनगढ़न्त’’ बताते हुए खारिज कर दिया। अमेरिका ने इस रिपोर्ट का समर्थन किया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में इस रिपोर्ट पर हुई एक बैठक के दौरान हुई बहस में सीरिया के अहम सहयोगी रूस और राष्ट्रपति बशर असद के विरोधियों का समर्थन करने वाले पश्चिमी देशों के बीच गहरे मतभेद नजर आए। मतभेदों की वजह से यह सवाल भी उठे कि क्या रिपोर्ट जारी करने वाले विशेषज्ञों का कार्यकाल बढ़ाया जाएगा या फिर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिबंधित रसायनिक हथियारों का उपयोग करने के लिए सीरिया में किसी को जवाबदेह ठहराया जाएगा।

रूस और अमेरिका ने, ‘‘ज्वाइंट इंवेस्टिगेशन मैकेनिज्म’’ कहलाने वाली विशेषज्ञों की इस इकाई का कार्यकाल बढ़ाने के लिए दो विपरीत प्रस्ताव जारी किए हैं। इसका कार्यकाल 14 नवंबर को खत्म हो रहा है। संयुक्त राष्ट्र में अमेरिका की राजदूत निक्की हेली ने सुरक्षा परिषद में कहा कि अमेरिका द्वारा आज जारी संशोधित मसौदे में रूस के मसौदे के कुछ बिंदुओ को भी शामिल किया है। इसमें सबूतों के उच्च मानकों के महत्व को शामिल किया गया है।

 

About Samar Saleel

Check Also

चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने किया तिब्बती सीमावर्ती शहर न्यिंगची का दौरा, जिससे भारत की बढ़ी मुश्किलें

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें चीन के राष्ट्रपति शी जिनफिंग ने अरुणाचल प्रदेश ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *