Breaking News

सूखे पड़े तालाब, बूंद बूंद पानी की तलाश में भटक रहे आवारा पशु

बिधूना/औरैया। तेज पड़ती धूप और भीषण गर्मी के कारण केवल मनुष्य ही नही बल्कि पशु पक्षी भी हताश और व्याकुल हो चुके है। सहार ब्लॉक की ग्राम पंचायत ढिकियापुर कंचौसी रेलवे लाइन के निकट सूखा पड़ा तालाब आवारा पशुओं को आंसू बहाने के लिए मजबूर कर रहा है,कहीं कहीं यह तालाब इतना गहरा है कि एक साथ दो हांथी डूब सकते हैं। बरसात के दिनों में यह तालाब लबालब भर जाता है जो किसानों को रबी की फसल के टॉनिक की तरह काम आता है। लेकिन अप्रैल से जून के मध्य यह तालाब बिल्कुल जल रहित हो जाता।

विकासखंड अछल्दा के ग्राम बिकूपुर मोर्चा विकासखंड बिधूना के भिखरा असजना रामपुर बामपुर भाईपुर आदि गांवों के तालाबों में धूल उड़ती नजर आ रही है। अधिकांश लोगों का कहना है कि यदि इस तालाबों की अच्छी तरह चारों ओर से खुदाई हो जाए तो यही तालाब किसानों के साथ साथ पशु पक्षियों के लिए वरदान साबित हो सकते हैं। जल संरक्षण हेतु कोई कारगर योजनाएं ना बनाए जाने से दादा में जल संरक्षण नहीं हो पा रहा है।

वही ग्राम पंचायतों की अधिकांश तालाबों पर दबंग भू माफियाओं ने कब्जा जमा लिया है जिससे तालाबों का अस्तित्व मिलता नजर आ रहा है। इस संबंध में कस्बे ब गांवों के ग्रामीणों ने नवनिर्वाचित ग्राम प्रधानों से तालाबों की विधिवत ढंग से खुदाई वा सौंदरीयकरण कराने की मांग की है। प्रतिवर्ष तो गर्मी के मौसम में पशु पक्षियों की प्यास बुझाने के लिए ग्राम पंचायत प्रशासन द्वारा तालाब भरवाए जाते थे लेकिन इस बार अभी तक तालाब नहीं भरवाए गए हैं। तालाबों की दुर्दशा देखकर पशु पक्षी भी इंद्र देवता की तरफ आस लगाए बैठे है कि कब इंद्र देव की कृपा हो और यह तालाब भर जाए।

रिपोर्ट-अनुपमा सेंगर

About Samar Saleel

Check Also

करें योग रहें निरोग : डॉ. वर्मा

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें चन्दौली। जनपद में आज योग दिवस के अवसर ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *