Breaking News

भारत के विकास में योगदान देने के लिए तत्पर एजिस

लखनऊ। भारतीय बाजार में पिछले दो दशकों से अधिक समय से योगदान दे रही एजिस ने देश में विश्वस्तरीय कारोबार का केन्द्र बनाने के उद्देश्य से दुनिया का दूसरा और एशिया का पहला डिजाइन सेन्टर खोलने की घोषणा की है। पोलैंड के बाद भारत के गुरूग्राम में स्थित यह डिजायन सेन्टर विश्वस्तरीय परियोजनाओं के लिये काम करेगा और भारत के बाहर स्थित सर्वश्रेष्ठ परियोजनाओं के लिये बेहतर प्रशिक्षण और कौशल विकास की सुविधायें उपलब्ध करायेगा।

एजिस ने ग्रुप के सीईओ लॉरेन्ट जर्मेन के भारतीय दौरे की घोषणा करते हुये बताया कि उनके दौरे से भारत में कम्पनी की मजबूती को और बढ़ाने में मदद करेगा। वहीं   लॉरेन्ट जर्मेन, सीईओ, एजिस ग्रुप ने कहा‘मैं भारत के विकास की कहानी, खासतौर पर इन्फ्रा क्षेत्र में देश के विकास से बेहद प्रभावित हूं। आज हम गर्व से कह सकते हैं कि 25 साल पहले भारतीय बाज़ार में प्रवेश के बाद से आज तक हमने सड़कों से लेकर राजमार्गों तक अपनी ऑर्डर बुक्स का विविधीकरण किया है, इनमें अन्य क्षेत्र जैसे रेलवे, विमानन, शहरी इमारतें, जल और बंदरगाह तक सभी शामिल हैं। भारत हमारे लिए सामरिक भोगौलिक क्षेत्र है और हम यहां अपने विकास की यात्रा जारी रखेंगे तथा नई उंचाईयों तक पहुंचने का प्रयास करते रहेंगे। स्वास्थ्य सेवाओं, जल आपूर्ति, रेल, रोड, वायुमार्ग, जलमार्ग और शहरी बुनियादी सुविधाओं को विशेष महत्व दिया गया है। ये सभी पहलु इस बात की पुष्टि करते हैं कि इस देश में काम करना हमारे लिए कितना महत्वपूर्ण है।

लॉरेन्ट जर्मेन (सीईओ), एजिस ग्रुप ने कहा भारत को लेकर मैं बेहद उत्साहित हूं। मैं इस नई पहल को लेकर बहुत सकारात्मक हूं, हम भारत को समूह के विश्वस्तरीय कारोबार का केन्द्र बनाना चाहते हैं। भारत हमारे लिए हमेशा से महत्वपूर्ण बाज़ार रहा है और देश में पूरी कई असंख्य परियोजनाएं इस बात का प्रमाण हैं। श्री संदीप गुलाटी, एमडी, एजिस इंडिया ने कहा एजिस पिछले दो दशकों से भारत में मौजूद है और विभिन्न क्षेत्रों में कई परियोजनाओं को सफलतापूर्वक अंजाम दे चुका है। भारत में हमें अपार अवसर दिखाई देती हैं और हम समझते हैं कि बुनियादी सुविधाओं का तीव्र विकास भारत के विकास की कहानी का अभिन्न हिस्सा हो सकता है। सक्षम कार्यबल और विश्वस्तरीय तकनीकी क्षमताओं के साथ हम भारत के विकास में योगदान देना चाहते हैं।

हम सरकारों और क्लाइन्ट्स के सहयोग से काम करते हुए साझेदारी के नए तरीकों पर ज़ोर देते रहेंगे। हम भारत में कुछ ही कंपनियों में से एक हैं जिनका इतना विविध पोर्टफोलियो है और 8 मेट्रो, 3 हवाई अड्डो एवं 3 स्मार्टसिटीज़, कई एक्सप्रेसवे, हाईवेज, जल, बंदरगाह एवं शहरी क्षेत्रों में कई परियोजनाओं के साथ हम मजबूत स्थिति पर हैं। हमें स्वास्थ्यसेवा, ओद्यौगिक क्षेत्र एवं उर्जा जैसे नए क्षेत्रों में भी अपार अवसर दिखाई देते हैं। सरकार देश में बुनियादी सुविधाओं के विकास पर निरंतर ज़ोर दे रही है और अपने कारोबार की बात करें तो हमें गर्व है कि हम राष्ट्र निर्माण में योगदान दे रहे हैं। इसक अलावा, भारत में ग्लोबल डिज़ाइन सेंटर का लॉन्च विश्वस्तरीय डिलीवरी की हमारी क्षमता को दर्शाता है। कुल मिलाकर, हम भारत में विकास को लेकर बेहद उत्साहित हैं और हमें खुशी है कि हमें समूह से कारोबार के लिए बहुत अच्छा समर्थन मिला है।’

पिछले दो दशकों से ग्रुप की भारत में सशक्त मौजूदगी है और कंपनी कई हाई प्रोफाइल परियोजनाओं के साथ सक्रियता से जुड़ी हुई है। इनमें शामिल है- 8 मास रैपिड ट्रांज़िट सिस्टम (मेट्रो) और दिल्ली के आस-पास सेमी-हाई स्पीड रीजनल रेल ट्रांज़िट सिस्टम, 3 स्मार्ट सिटीज़ (चण्डीगढ़, भुवनेश्वर और अजमेर) का स्थायी विकास, शहरी रूपान्तरण के पुनरूत्थान के लिए अटल मिशन   और मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत सभी के लिए आवास; विशेष गगनचुम्बी संरचनाएं जैसे गुजरात में स्टैच्यु ऑफ युनिटी, मुंबई में छत्रपति शिवाजी मैमोरियल स्टैच्यु, राष्ट्रीय जलमार्ग और जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट; कई एक्सप्रेसवे, मुंबई की तटीय सड़कें, राष्ट्रीय राजमार्ग, राज्यों के राजमार्ग, विभिन्न भोगौलिक क्षेत्रों में 29 भारतीय राज्यों की साझेदारी में ग्रामीण सड़कें; 3 हवाई अड्डे (लखनऊ, त्रिची और पुणे), 250 बांधों के लिए बांध पुनर्वास और सुधार परियोजना जो भारत में अपनी तरह की सबसे बड़ी परियोजनाओं में से एक है और ऐसी कई प्रतिष्ठित परियोजनाए शामिल हैं।

Loading...

About Aditya Jaiswal

Check Also

छोटे कारोबारियों के लिए नई स्कीम, बिजनेस शुरू करने के लिए सरकार देगी पैसा, घर से शुरू कर सकते हैं काम

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें देश के छोटे कारोबारियों के लिए सरकार एक ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *