धानक्रय केन्द्र दूर होने के चलते किसान दलालों को धान बेचने को मजबूर

लालगंज/रायबरेली। ग्राम सभा ऐहार के पूर्व प्रधान एवं किसान नेता राजकिशोर सिंह बघेल ने मुख्यमंत्री, प्रमुख सचिव सहित कई अधिकारियों को पत्र भेजकर कर ऐहार को धान क्रय केन्द्र बनाये जाने की मांग की है।प्रदेस सरकार ने लोदीपुर उतरावां मे एक और धान क्रय केन्द्र खोला है,लेकिन लोदीपुर उतरावां के स्थान पर मुख्य सडक पर स्थित ऐहार को केन्द्र बनाये जाने की मांग किसानो ने की है। वास्तव में मुख्य सडक के किनारे केन्द्र होने से किसानों को धान क्रय केन्द्र तक ले जाने मे आसानी होती है।

एक पखवाडा पूर्व किसान नेता राजकिसोर सिंह बघेल ने अधिकारियों से मिलकर ऐहार को क्रय केन्द्र बनाये जाने की मांग की थी।किसानों के संपर्क करने पर जिला प्रशासन के अधिकारियों के द्वारा भी बताया गया था कि ग्रामसभा ऐहार को धान क्रय केंद्र बनाने का प्रस्ताव बन चुका है,परंतु ऐसा नहीं हुआ और आखिरी क्षण में ग्रामसभा लोदीपुर उतरवा को धान क्रय केंद्र बना दिया गया।जिला प्रबंधक, पीसीएफ रायबरेली उमेश यादव द्वारा किसानों को बताया गया कि साधन सहकारी समिति के सचिव नहीं चाहते कि ग्रामसभा ऐहार में धान क्रय केंद्र बने।

Loading...

पूर्व प्रधान ने नाराजबी व्यक्त करते हुये कहा कि एक अधीनस्थ के कहने पर वरिष्ठ अधिकारी द्वारा ग्रामसभा ऐहार को धान क्रय केंद्र नहीं बनाया गया।यह सर्वविदित है कि ग्राम लोदीपुर उतरवा राष्ट्रीय राजमार्ग से 6 किलोमीटर दूर है और सड़क की स्थिति अत्यंत दयनीय है जिसकी वजह से अन्य ग्राम सभा के किसानों को अपना धान क्रय केंद्र ग्राम सभा लोदीपुर उतरवा तक पहुंचाने में अत्यंत कठिनाई का सामना करना पड़ेगा और जिसकी वजह से हम किसानों को अपना धान बिचैलियों को बेचने पर विवश होना पड़ेगा। इसके विपरीत ग्राम सभा ऐहार राष्ट्रीय राजमार्ग पर है इसलिए, यहां धान पहुंचाना सुविधाजनक है और तर्कसंगत भी है।किसानो ने ग्रामसभा ऐहार तहसील डलमऊ को धान क्रय केंद्र घोषित करने की मांग की है।

रिपोर्ट-दुर्गेश मिश्रा

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

कांग्रेस कार्यालय में मना प्रथम राष्ट्रपति का जन्मदिन

रायबरेली। जिला व शहर कांग्रेस कमेटी ने भारत के प्रथम राष्ट्रपति व भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *