Wednesday , September 22 2021
Breaking News

डुमरिया प्रखंड के सलैया में 60 लाभुकों के बीच किया गया हेल्थ कार्ड का वितरण

गया। जिला में स्वास्थ्य विभाग द्वारा प्रधानमंत्री जनआरोग्य आयुष्मान भारत योजना को अधिकाधिक प्रभावी बनाने की कवायद जारी है. शहरी तथा ग्रामीण क्षेत्रों में आयुष्मान भारत योजना के तहत हेल्थ कार्ड बनाने के लिए लाभुकों को मोबिलाइज किया गया है. लाभुकों को हे​ल्थ कार्ड के फायदों को बताने के साथ इसके बनाने में सभी आवश्यक सहयोग किया जा रहा है और हेल्थ कार्ड तैयार कर उन्हें सौंपा जा रहा है.

प्रधानमंत्री जनआरोग्य आयुष्मान भारत योजना को प्रभावी बनाने की हो रही कवायद

इस क्रम में शनिवार को जिला के डुमरिया प्रखंड के सलैया गांव में 60 लाभुकों को आयुष्मान भारत स्वास्थ्य कार्ड सौंपा गया. यहां स्वास्थ्य विभाग द्वारा कैंप लगाकर हेल्थ कार्ड का वितरण किया गया. प्रधानमंत्री जनआरोग्य आयुष्मान भारत योजना के जिला कार्यक्रम समन्वयक नलीन मौर्य तथा प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक शशिभूषण की मौजूदगी में लाभुकों को कार्ड सौंपे गये.

गांव गांव जाकर किया जाना है हेल्थ कार्ड का वितरण: जिला कार्यक्रम समन्वयक ने बताया पूर्व की तुलना में लाभार्थियों तक हेल्थ कार्ड की पहुंच को आसान बनाने की हरसंभव कोशिश की जा रही है. अब लाभार्थियों को पीवीसी कार्ड के रूप में यह हेल्थ कार्ड मुहैया कराया जा रहा है. इस कार्ड के तहत प्रति परिवार पांच लाख रुपये तक के इलाज की सुविधा प्राप्त होगी. उन्होंने बताया कि योजना के तहत अब गांव गांव जाकर लाभुकों के बीच हेल्थ कार्ड का वितरण किया जायेगा. उन्होंने बताया कि यह हेल्थ कार्ड कॉमन सर्विस सेंटर के माध्यम से नि:शुल्क बनाया जा रहा है.

लाभुकों को सूचीबद्ध किये गये अस्पतालों में ईलाज की सुविधा प्राप्त हो सकेगी. उन्होंने बताया हेल्थ कार्ड प्राप्त करने के लिए लाभुक के फोन नंबर पर पहले एक वन टाइम पासवर्ड भेजा जायेगा जिसके बाद उस पासवर्ड को कॉमन सर्विस सेंटर के कर्मचारी को उपलब्ध कराना होगा. इस पासवर्ड के प्राप्त होते ही लाभुक को कार्ड सौंप दिया जायेगा. उन्होंने बताया कि इससे कार्ड सीधा लाभुक तक पहुंच सकेगा. वहीं हेल्थ कार्ड प्राप्त करने वाली एक लाभुक पोदीना देवी ने खुशी जताते हुए कहा कि आयुष्मान भारत कार्ड की मदद से ईलाज में काफी सुविधा प्राप्त हो सकेगी. उनके परिवार के लगभग सभी सदस्यों का कार्ड बनाया गया है.

परिवार के नये सदस्यों का जोड़ जा सकेगा नाम: आयुष्मान भारत योजना के तहत प्राप्त इस हेल्थ कार्ड में लाभुक अपने परिवार के नये सदस्य का नाम भी जुड़वा सकेंगे. लेकिन इसके लिए शर्त यह होगा कि वर्ष 2011 के बाद परिवार में जो भी नये सदस्य आयें उन्हीं का नाम जोड़ा जा सकता है. नये सदस्य के रूप में दो तरह के लोगों को शामिल किया गया है. एक जिनकी शादी हुई है वे मैरिज सर्टिफिकेट उपलब्ध करा कर नाम जुड़वा सकते हैं, तथा दूसरा जिनके बच्चे हुए हैं उनका बर्थ सर्टिफिकेट उपलब्ध करा कर नाम जुड़वाया जा सकता है.

About Samar Saleel

Check Also

पंजाब की राजनीति में हुए पलट फेर से क्या बीजेपी को होगा कोई बड़ा फायदा, जानिए पूरा सचाई…

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें पंजाब में अब तक सबसे कमजोर प्लेयर आंकी ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *