Breaking News

रेलवे में स्टार्टअप के लिए लाँच किया गया इनोवेशनल पोर्टल

लखनऊ। रेलवे में स्टार्टअप के लिए, एक इनोवेशनल पोर्टल लांच किया गया है। इस सम्बंध में जानकारी देने हेतु अपर महाप्रबन्धक, पूर्वोत्तर रेलवे अशोक कुमार मिश्र की अध्यक्षता में 21 जून को महाप्रबन्धक सभाकक्ष में प्रमुख विभागाध्यक्ष एवं वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक का आयोजन किया गया।

रेलवे में स्टार्टअप के लिए लाँच किया गया इनोवेशनल पोर्टल

इस बैठक में सूक्ष्म, लधु एवं मध्यम उद्यम, एकल इनोवेटर, पार्टनरशिप फर्म, कम्पनियाँ तथा मदन मोहन मालवीय तकनीकी विश्वविद्यालय, आई.टी.एम. गीडा, बी.आई.टी., के.आई.पी.एम., जिला उद्योग केन्द्र, एमएसएमई, गोरखपुर के प्रतिनिधियों ने प्रतिभाग किया।

बैठक को सम्बोधित करते हुये अपर महाप्रबन्धक अशोक कुमार मिश्र ने कहा कि रेलवे एक बहुत बड़ी इंडस्ट्री है तथा इसमें नई तकनीकी के समावेष की सम्भावनायें हैं। युवा वर्ग के पास विभिन्न प्रकार के नए आइडियाज हैं, जिसके लिए रेलवे ने इनोवेषन पोर्टल के माध्यम से यह प्लेटफार्म दिया है।

श्री मिश्र ने कहा कि रेलवे में स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए समान भागीदारी के रूप में 1.5 करोड़ रूपये तक का सहयोग किया जायेगा, जिसके माध्यम से रेलवे में नई तकनीक का विकास होगा। रेलवे में स्टार्टअप से सम्बन्धित जानकारियाँ मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी पंकज कुमार सिंह द्वारा पावर प्वाइंट प्रजेन्टेषन के माध्यम से प्रस्तुत किया गया तथा कृष्ण चन्द्र सिंह, उप महाप्रबन्धक ने स्वागत सम्बोधन एवं धन्यवाद ज्ञापन दिया।

भारतीय रेलवे की नवाचार नीति (इनोवेशन पालिसी) की प्रमुख विशेषतायें

– नवोन्मेषक (इनोवेटर) को रू0 1.5 करोड़ तक की राशि समान साझेदारी के आधार पर अनुदान।
– प्राब्लम स्टेटमेंट से विकास तक की प्रक्रिया आॅनलाइन निर्धारित समयावधि में।
– रेलवे द्वारा प्रोटोटाइप ट्रायल किया जायेगा।
– प्रोटोटाइप के सफल प्रदर्शन पर बढ़ी हुई धनराशि प्रदान की जायेगी।
– नवोन्मेषकों (इनोवेटर्स) का चयन एक पारदर्शी एवं निष्पक्ष प्रणाली द्वारा किया जायेगा।
– विकसित इंटेलेक्चुवल प्राॅपर्टी राइट्स (आई.पी.आर.) नवोन्मेषक के पास ही रहेगा।
– इनोवेटर को एस्योर्ड डेवलेपमेन्टल आर्डर।
– विलम्ब से बचने के लिये उत्पाद विकास प्रक्रिया का विकेन्द्रीकरण।

भारतीय रेल स्टार्टअप के माध्यम से उन्नत तकनीक को अपनाकर गाड़ी संचलन में आने वाली चुनौतियों से निपटेगी। नई तकनीक के माध्यम से 11 मदों पर इनोवेटर रेलवे के विकास में योगदान दे सकेंगे। भारतीय रेल द्वारा लांच इनोवेशन पोर्टल वेबसाइट, जिसमें इस नीति के बारे में सूचनायें दी गई हैं।

रिपोर्ट – दयाशंकर चौधरी

About reporter

Check Also

आज़मगढ़ चुनाव : निरहुआ की जीत से नए स्थानीय राजनीतिक समीकरण आये सामने

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Sunday, June 26, 2022 लखनऊ। आजमगढ ...