Breaking News

‘ऑपरेशन कायाकल्प’ के तहत स्कूलों का निरीक्षण और बच्चों के शिक्षक बनते योगी

 डॉ दिलीप अग्निहोत्री

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्य करने का अपना अंदाज है। वह एक यात्रा में एक साथ अनेक उद्देश्य पूरे करते है। इन सभी का संबन्ध प्रदेश व समाज के हित से जुड़ा होता है। अयोध्या गए तो वहां श्री राम लला विराजमान का दर्शन पूजन किया। यहां बन रहे मंदिर निर्माण कार्य का निरीक्षण किया। अनेक विकास योजनाओं की समीक्षा की।

‘ऑपरेशन कायाकल्प’ के तहत स्कूलों का निरीक्षण और बच्चों के शिक्षक बनते योगी

दलित परिवार में भोजन कर समरसता का सन्देश दिया। उनके घर जा रहे थे, तो पता चला कि कुछ मीटर दूरी पर बेसिक स्कूल है। बेसिक शिक्षा में ऑपरेशन कायाकल्प के माध्यम से विगत पांच वर्षों में अभूतपूर्व सुधार किए गए है। योगी अक्सर इन विद्यालयों में निरीक्षण के लिए जाते है।

उस समय स्कूल खुला हुआ तो वह कुछ पल के लिए शिक्षक की भूमिका में आ जाते है। बच्चों के लिए यह यादगार लम्हा बन जाता है। योगी दलित महिला बसंती के बेगमपुरा स्थित आवास में भोजन हेतु जा रहे थे। उनका काफिला आवास से कुछ आगे बढ़ गया। इंतजार कर रहे लोगों को हैरत हुआ। यहां से कुछ मीटर दूरी पर उनका काफिला रुका।

योगी कई क्लास रूम में मुख्यमंत्री नहीं, बल्कि शिक्षक के रूप में गए।

योगी आदित्यनाथ वाहन से उतर कर पूर्व माध्यमिक विद्यालय कटरा पहुंच गये। विद्यालय में सुविधाओं का निरीक्षण किया। सरकार द्वारा बच्चों को उपलब्ध कराई जा रही यूनिफॉर्म की जानकारी प्राप्त की। इसके बाद वह कई क्लास रूम में मुख्यमंत्री नहीं बल्कि शिक्षक के रूप में गए। बच्चों से सहजता से संवाद किया।

ब्लैक बोर्ड पर जो लिखा था उसके बारे में उनसे सवाल किए। जो किताब खुली थी या कॉपी पर बच्चों ने जो लिखा था,उसके विषय में पूंछा। जो गलती उसे सही कराया। बच्चों से किताब पढ़वाई। हिंदी के शब्द और अर्थ के विषय में पूछा।

About reporter

Check Also

संत कबीरदास जयंती समारोह पर राष्ट्रीय शोध संगोष्ठी आयोजित

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें Published by- @MrAnshulGaurav Wednesday, May 25, 2022 लखनऊ। राष्ट्रीय ...