Breaking News

जेपी नड्डा ने नहीं भेजी पूर्व प्रधानमंत्री NDA मीटिंग में शामिल होने की चिट्ठी, जानिए क्या है वजह

पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा की पार्टी जनता दल सेक्यूलर (JDS) को करारा झटका लगा है। पार्टी बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा से एनडीए की मीटिंग में शामिल होने के लिए चिट्ठी मिलने का इंतजार कर रही थी लेकिन इस मोर्चे पर मायूसी हाथ लगी है।

अब जेडीएस न तो कांग्रेस की अगुवाई वाले समान विचारधारा वाली किसी पार्टी के गठबंधन में शामिल है और न ही बीजेपी की अगुवाई वाले एनडीए का हिस्सा है। जेडीएस के प्रवक्ता ने कहा कि उनकी पार्टी दोनों गठबंधनों से स्वतंत्र है और अपने वजूद पर आगामी लोकसभा चुनाव लड़ेगी।

जेडीएस के प्रवक्ता के मुताबिक, “हमें किसी भी बैठक में आमंत्रित नहीं किया गया है। हम किसी भी गठबंधन में नहीं हैं। आगे हम इंतजार करेंगे और राजनीतिक परिस्थितियों देखेंगे।” उन्होंने कहा कि हम अब पार्टी को संगठित करने और जनता से संबंधित मुद्दों को उठाने के बारे में चिंतित हैं।

मंगलवार को बेंगलुरु में जब 26 विपक्षी दलों की महाबैठक हो रही थी, तब पत्रकारों से बात करते हुए कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और जेडीएस नेता एचडी कुमारस्वामी ने सवालिया लहजे में कहा, “उन्हें (कांग्रेस और भाजपा) मुझसे संपर्क क्यों करना चाहिए? हम भी एक विपक्षी दल की भूमिका निभा रहे हैं और हम दोनों पक्षों के साथ समान व्यवहार करते हैं। केवल सार्वजनिक मंचों पर ही लोग हमारी पार्टी के भाजपा के साथ गठबंधन की बात कर रहे हैं, लेकिन ऐसी कोई सहमति नहीं बनी है। एनडीए दलों की बैठक में हमारे बारे में चर्चा होगी या नहीं, इसके बारे में भी मुझे कुछ नहीं पता।”

बता दें कि एक दिन पहले ही कुमारास्वामी के पिता और जेडीएस नेता एचडी देवगौड़ा ने कहा था कि वह एनडीए की बैठक में शामिल होंगे लेकिन जेपी नड्डा के न्यौते का इंतजार कर रहे हैं। उन्होंने कहा था कि आगे की रणनीति उसी पर निर्भर करेगी। पूर्व प्रधानमंत्री ने कांग्रेस की अगुवाई वाले 26 दलों की बैठक में शामिल होने से इनकार किया था।

पूर्व प्रधानमंत्री के पूर्व सीएम बेटे का यह बयान ऐसे समय में आया है, जब जेडीएस बीजेपी के साथ कर्नाटक विधानसभा में नेता विपक्ष की कुर्सी और 2024 में आगामी लोकसभा चुनावों में गठबंधन के मुद्दे पर बात कर रही थी। जेडीएस इससे पहले दोनों( कांग्रेस और बीजेपी) के साथ मिलकर कर्नाटक में सरकार बना चुकी है। इतना ही नहीं 2019 में जेडीएस ने कांग्रेस के साथ मिलकर लोकसभा का चुनाव भी लड़ा था।

 

About News Room lko

Check Also

भारतीय न्याय संहिता, सीएए..चिदंबरम ने बताया इंडी गठबंधन की सरकार बनी तो कौन से कानून बदले-वापस लिए जाएंगे

नई दिल्ली : कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने कई कानून में बदलाव और ...