Breaking News

लुम्बा के छात्रों ने सीखे उद्यमिता के मूलमंत्र

लखनऊ विश्वविद्यालय के व्यापार प्रशासन विभाग के चाणक्य सभागार में दिनांक 23-2-24 को आईआईएम लखनऊ के इनक्यूबेशन सेंटर और भारतीय रिजर्व बैंक इनोवेशन हब के सामंजस्य से फिनटेक फ्यूचरप्रेन्यर बूटकैंप का आयोजन किया गया।

समारोह के उद्देश्यानुसार वित्त और प्रौद्योगिकी के अभिसरण पर प्रकाश डालते हुए वक्ताओं ने अपने अनुभव साझा किए। इस कार्यक्रम से छात्रों ने उद्यमिता के क्षेत्र में सफलता के मूलमंत्र सीखे।

👉राजभवन में होगा पूर्व राज्यपाल राम नाईक का सम्मान

लखनऊ विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर आलोक कुमार राय के मार्गदर्शन में, विश्वविद्यालय विकसित भारत@2047 की दिशा में एक छात्र-अनुकूल वातावरण का निर्माण कर रहा है। कार्यक्रम की गरिमा बढ़ाते हुए कई अनुभवी लोगों ने अपने विचारों से लुंबा के छात्रों में उत्साह भरा और उन्हें तत्कालीन परिस्थितियों में सफल उद्यमी बनने के मंत्र बताए।

लुम्बा के छात्रों ने सीखे उद्यमिता के मूलमंत्र

आयोजन की वक्ता मंडली में राजेश बंसल (सीईओ रिजर्व बैंक इनोवेशन हब), आकर्ष नायडू (रिजर्व बैंक इनोवेशन हब), अनादि एस पांडे (स्ट्रेटजी प्रोफेसर, आईआईएम लखनऊ), यामिनी भूषण पांडे (एमडी सीइओ, आईआईएम लखनऊ) शामिल रहे। इस कार्यक्रम में प्रोफेसर संगीता साहू ने सतत विकास के मुद्दे पर बल देते हुए विकसित भारत की तस्वीर साझा की।

कार्यक्रम में उपस्थित वक्ता मंडली ने आज के समय में उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए कई कारगर मंत्र साझा किए। खुद का बिजनेस करने का सपना सच करो, आज का दिन है, नया अवसर बनाओ। विश्वास रखो खुद में, करो सपनों की पहचान,उद्यमिता की राह पर बढ़ते चलो निरंतर आगे बढ़ते रहो।

👉महाराष्ट्र में भाजपा विधायक राजेंद्र पाटनी का निधन, लंबे समय से बीमार चल रहे थे

राजेश बंसल ने बताया कि वे किस प्रकार सतत विकास की नीति से भारत की तस्वीर बदलना चाहते है। “ड्रीम बिग, थिंक बिग” का मूलमंत्र देते हुए उन्होंने छात्रों को संबोधित किया

आईआईएम लखनऊ के अनुभवी प्रोफेसर अनादि एस पांडे ने नवाचार और सफल उद्यम के सामंजस्य को समझते हुए छात्रों को स्टार्टअप्स में आने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने जनसंख्या के जेंजी़ वर्ग को संबोधित करते हुए उनकी जरूरतों और उनकी क्षमताओं पर बल दिया।उन्होंने छात्रों को उद्यमियता क्षेत्र में अपने विचारों से समाज कल्याण के लिए कार्यरत रहने के लिए प्रेरित किया।

लुम्बा के छात्रों ने सीखे उद्यमिता के मूलमंत्र

आकर्ष नायडू ने कहा कि “फिंटेक की सहायता से आज हर कोई उद्यम क्षेत्र में आसानी से अपने कदम रख सकता है और सफल उद्यमी बनने की राह में फिंटेक उन्हें मार्गदर्शित करता रहेगा।”

यामिनी भूषण पांडे ने सभी छात्रों के विचारों का स्वागत करते हुए ,यह भी सुनिश्चित कराया की किस प्रकार प्रशासन और शिक्षण संस्थान उन्हें मार्गदर्शित करते रहेंगे। उन्होने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि “जहा चाह वहां राह का मूलमंत्र अपनाते हुए उद्यम क्षेत्र में अपने कदम उठाए।”

👉मौत की झूठी अफवाह फैलाकर कानूनी पचड़े में फंसीं पूनम पांडे? अभिनेत्री ने चुप्पी तोड़ बताया सच

रिजर्व बैंक इनोवेशन हब और आईआईएम लखनऊ के इनक्यूबेशन सेंटर ने कार्यक्रम के अंत में एक एमओयू की शुरुआत करी और उद्यमिता के क्षेत्र में नए मुकाम हासिल करने की नींव रखी। वक्ता मंडली ने साझा किया की किस प्रकार आज के युवा पीढ़ी के लिए उद्यमिता एक महत्वपूर्ण विषय है।

यह समय बदल रहा है और नए अवसर प्राप्त हो रहे हैं। उद्यमिता से जुड़े लोगों के लिए यह समय उनके सपनों को हकीकत में बदलने का और नए मानचित्र बनाने का है। सपनों को पूरा करने के लिए उद्यमिता की दुनिया में आगे बढ़ें और नया इतिहास रचें।

About Samar Saleel

Check Also

हम नक्सलवाद के सामने घुटने नहीं टेकते, नेस्तनाबूद कर देते हैं- योगी आदित्यनाथ

• योगी आदित्यनाथ ने कोरबा में जनसभा को किया संबोधित • कहा- कांग्रेस का नक्सलवाद ...