Breaking News

किसानों के लिए लॉन्च हुआ नया पोर्टल, कैसे मिलेगा फायदा, जानें

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किसान ऋण पोर्टल (केआरपी) को लॉन्च कर दिया है। इस पोर्टल को कई सरकारी विभागों के सहयोग से विकसित किया गया है और यह किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) के अंतर्गत क्रेडिट सेवाओं तक पहुंच प्रदान करेगा।

यह डिजिटल प्लेटफॉर्म किसान डेटा, लोन वितरण की जानकारी, ब्याज सहायता और योजना की प्रगति के बारे में जानकारी देगा।

क्या है पूरा प्लान: केसीसी ऋण खाताधारकों से जुड़ी जानकारियां अब किसान ऋण पोर्टल पर आसानी से व्यापक रूप में उपलब्ध होंगी। यह सुविधा पहले नहीं थी। इसके साथ ही सभी केसीसी खाताधारकों का सत्यापन आधार के जरिए किया जाएगा। इससे पात्र किसानों को ऋण सहायता पहुंचाने में मदद मिलेगी। इंटरेस्ट सब्वेंशन दावों का भुगतान इस पोर्टल के माध्यम से सीधे लाभार्थी तक पहुंचाने की योजना है। वहीं, सरकार इस पोर्टल के माध्यम से योजना के लाभार्थियों और चूक गए किसानों का आकलन कर सकेगी।

इसके साथ ही “घर घर केसीसी अभियान” की शुरुआत की गई है। यह भारत में सभी किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड (केसीसी) योजना का लाभ प्रदान करने वाला एक महत्वाकांक्षी अभियान है। इस अभियान का मकसद यह सुनिश्चित करना है कि प्रत्येक किसान को ऋण सुविधाओं तक निर्बाध पहुंच प्राप्त हो जिससे उनके कृषि कार्य निर्बाध रूप से संचालित हो सकें।

कितने हैं केसीसी अकाउंट: बता दें कि 30 मार्च 2023 तक लगभग 7.35 करोड़ केसीसी अकाउंट हैं, जिनकी कुल स्वीकृत रकम 8.85 लाख करोड़ रुपये है। सरकारी आंकड़ों के अनुसार, सरकार ने चालू वित्त वर्ष में अप्रैल-अगस्त के दौरान रियायती ब्याज दर पर 6,573.50 करोड़ रुपये का कृषि-ऋण वितरित किया है। केसीसी के लाभ को बढ़ाने के लिए घर-घर अभियान, केंद्रीय योजना ‘पीएम-किसान’ के गैर-केसीसी धारकों तक पहुंचेगा।

इसके अलावा विंड्स मैनुअल का अनावरण किया गया है। यह मौसम सूचना नेटवर्क डेटा सिस्टम (विंड्स) पहल के प्रभाव को बढ़ाता है।

About News Desk (P)

Check Also

‘आप इतने असंवेदनशील कैसे हो सकते हैं?’, कोविड मामले में बॉम्बे हाईकोर्ट ने सरकार को लगाई फटकार

मुंबई: बॉम्बे हाईकोर्ट ने महाराष्ट्र सरकार को फटकार लगाई है। दरअसल महाराष्ट्र सरकार ने कोरोना ...