नोडल अफसर ने किया विभिन्न योजनाओं का निरीक्षण, जानिए कैसी मिली व्यवस्थाएं

फिरोजाबाद। जनपद नोडल अधिकारी सुधीर एम बोबडे ने रैन बसेरों, अलाव व गौवंश आश्रय स्थल सन्दलपुर व कोविड-19 टीकाकरण शिविरों का निरीक्षण किया। न्यायिक राजस्व परिषद के सदस्य एवं जनपद के नोडल अधिकारी सुधीर एम बोबडे़ ने अपने तीन दिवसीय जनपद भ्रमण कार्यक्रम के दौरान अस्थाई गौवंश आश्रय स्थल सन्दलपुर, प्राथमिक विद्यालय इन्दुमई में कोविड-19 टीकाकरण शिविर एवं रैन बसेरों, अलाव, गौआश्रय स्थलों आदि का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को जाना और उपस्थित अधिकारियों को मौके पर ही दिए आवश्यक दिशा निर्देश।

शिकोहाबाद स्थित राष्ट्रीय शहरी आजीविका मिशन के अंतर्गत निर्मित शहरी बेघरों के लिए स्थायी आश्रय भवन का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान उन्होने प्रबन्धक महावीर सिंह द्वारा बताया गया कि इस आश्रय स्थल में कुल 96 बेड हैं, जिनमें 40 पुरुष व 56 महिला बेड हैं, 27 इण्डियन एवं 03 वैस्टर्न टॉयलेट हैं, 23 लोग उक्त आश्रय स्थल में ठहरे हुए हैं। आश्रय स्थल में रसोई संचालित नहीं है। उन्होने बताया कि रुकने वाले व्यक्ति बाहर से ही खाना खाकर आते हैं रुकने वाले व्यक्तियों से उनके पहचान पत्र के रूप में आधार कार्ड इत्यादि की प्रति संरक्षित की जा रही है। कमरों में कुछ खिड़कियों के शीशे टूटे हुए हैं, जिस कारण शीतकाल में रुकने वाले व्यक्तियों को स्वाभाविक रूप से कठिनाई का सामना करना पड़ रहा है, जिस पर नोडल अधिकारी ने निर्देश दिए कि शीघ्र ही इनको ठीक कराने की कार्यवाही की जाये। कोविड के दृष्टिगत् सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करायें एवं मास्क का उपयोग भी कराया जाऐ।

इसी प्रकार नोडल अधिकारी ने बस स्टैण्ड शिकोहाबाद पर निर्मित अस्थायी आश्रय स्थल जो कि नगर पालिका परिषद द्वारा संचालित है, का निरीक्षण किया। उन्होने आश्रय स्थल में पाया कि गददे बिछाकर लगभग 08 से 10 व्यक्तियों के रुकने की व्यवस्था है, स्थल पर रजाई तकिया आदि पाये गये। मौके पर उपस्थित केयर टेकर अंगने लाल द्वारा पूछने पर अवगत कराया गया कि चादर 4-5 दिन बाद बदली जाती है। उन्होने उपस्थित केयर टेकर को निर्देशित किया कि कोविड के दृष्टिगत सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करायें एवं मास्क का उपयोग कराऐं। इसके अतिरिक्त कटरा बाजार स्थित पक्का तालाब तिराहे पर अलाव जलता हुआ पाया गया, जिसकी व्यवस्था तहसील शिकोहाबाद द्वारा की गई थी। उपस्थित व्यक्तियों द्वारा अवगत कराया गया कि लगभग सायं 05 बजे नियमित रूप से नगर पालिका परिषद द्वारा अलाव जलाया जाता है।
इसके उपरांत उन्होने ग्राम सन्दलपुर स्थित गौशाला का निरीक्षण किया।

निरीक्षण के दौरान 126 गौवंश संरक्षित थे। सभी नर गौवंशों में बधियाकरण कार्य किया जा चुका था, गौवंशों में ईयर टैगिंग संतोषजनक पायी गई। गौआश्रय स्थल संचालक द्वारा अवगत कराया गया कि गौआश्रय स्थल के चारों ओर वाउन्ड्रीवाल की आवश्यकता है जिससे गौवंश तार फेंसिंग को तोड़कर बाहर न जा सके एवं आश्रय स्थल पर गोबर कम्पोस्ट बनवाये जाने की माँग संचालक द्वारा की गई। इस पर जनपद नोडल अधिकारी द्वारा मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये गये कि गौआश्रय स्थल पर गोबर कम्पोस्ट बनवाया जाय तथा सुझाव दिया गया कि गोबर की खाद को ग्रामवासियों में बिक्री की जाये जिसके बदले में उनसे गौवंशों हेतु चारा, दाना प्राप्त किया जाए। उन्होने कहा कि गोबर की खाद की बिक्री से गौशाला की आमदनी हो एवं गौशाला को स्वावलम्बी बनाया जा सके।

इसी क्रम में उन्होने प्राथमिक विद्यालय इन्दुमई का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान प्राथमिक विद्यालय इन्दुमई के आस-पास स्थित बने घरों के बाहर रतनेश पत्नी सत्यप्रकाश नाम की महिला से कोविड-19 के टीकाकरण की दोनों डोज की जानकारी प्राप्त की। उनके द्वारा बताया गया कि उनकी दोनों डोज लग चुकी हैं उनका बड़ा बच्चा 21 वर्ष का है जिसके भी दोनों टीके लग चुके हैं एवं छोटा बच्चा 18 वर्ष का बताया उसका भी कल टीका लग चुका है। निरीक्षण के दौरान अपर जिलाधिकारी अभिषेक कुमार सिंह, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी, अधिशासी अधिकारी नपा. शिकोहाबाद, खण्ड विकास अधिकारी शिकोहाबाद सहित सम्बन्धित अधिकारी कर्मचारी उपस्थित रहे।

रिपोर्ट-मयंक शर्मा

About Samar Saleel

Check Also

आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर राज्य के 23 कैदियों को मिलेगी रिहाई, राज्यपाल ने दी मंजूरी

🔊 खबर सुनने के लिए क्लिक करें उत्तराखंड सरकार ने सजाप्राप्त 23 कैदियों को रिहा ...