Breaking News

स्वदेश सरस्वती विद्या मंदिर में योग शिविर का आयोजन

महराजगंज(रायबरेली)। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के मौके पर 21 जून 2018 को स्वदेश सरस्वती विद्या मंदिर महराजगंज में योग शिविर का आयोजन किया गया। जिसे पतंजलि के योग शिक्षक राधेश्याम पाण्डेय के मार्गदर्शन में आयोजित किया गया।

ॐ के उच्चारण के साथ आरम्भ हुआ योग शिविर

स्वदेश सरस्वती विद्या मंदिर में योग शिविर के दौरान विद्यालय के प्रबंधक रणजीत सिंह व शिशु विद्या मंदिर के प्रधानाचार्य अपने आचार्यों सहित उपस्थित रहे । शिविर का ॐ के उच्चारण के साथ आरम्भ हुआ।

अंतर्राष्टीय योग दिवस पर अनुलोम विलोम ,भ्रामरी, मरकत आसन, सिंघनाद का योगाभ्यास हुआ। अंत मेप्रधानाचार्य राम प्रताप सिंह ने ‘योगों का जीवन पर प्रभाव’ के बारे में बताया एवं लोगों से अपेक्षा की कि वे अपने जीवन मे इसे उतारे।

कार्यक्रम में प्रमुख रूप से केशर बख्स सिँह, शोभनाथ वैश्य, जयनारायण वर्मा, लक्ष्मीशंकर श्रीवास्तव, अमर सिंह व लगभग 150 लोग मौजूद रहे।

रिपोर्ट – राजन प्रजापति


♦अन्य खबरें♦


बिजली व्यवस्था सही कराने के लिए उपजिलाधिकारी को शिकायती पत्र

महराजगंज(रायबरेली)। बिजली विभाग में बैठे उच्चाधिकारियों द्वारा क्षेत्र के गांवों में की जा रही अघोषित विद्युत कटौती से जहां आम जनमानस त्रस्त है, तो वहीं बिजली विभाग के अधिकारी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अवहेलना कर रहे है तथा प्रदेश सरकार की किरकिरी भी करवा रहे है। जिसके चलते क्षेत्र में हो रही अघोषित विद्युत कटौती के खिलाफ एक ओर भारतीय किसान यूनियन जनता की हित की लड़ाई के लिए आगे आकर उपजिलाधिकारी को शिकायती पत्र दिया है तो वहीं समाज सेवी कमल सिंह उर्फ पप्पू सिंह ने भी उपजिलाधिकारी को शिकायती पत्र देकर बिजली व्यवस्था सही कराने की बात कही है।

भारतीय किसान यूनियन के जिला महामंत्री देवेन्द्र प्रताप सिंह उर्फ नीलू सिंह व ऋषि सिंह, अन्नू सिंह, अरिदमन सिंह, अनुपम जायसवाल तथा समाज सेवी कमल सिंह उर्फ पप्पू सिंह ने दिये गये शिकायती पत्र में कहा है कि प्रदेश की भाजपा सरकार का यह आदेश है कि जाए ग्रामीण क्षेत्र में 18 घण्टे विद्युत सप्लाई दी जाए। लेकिन बिजली विभाग में बैठे अधिकारियों की मिली भगत के चलते ग्रामीण क्षेत्र को मात्र 4 से 5 घण्टे बिजली ही मिल पाती है।

वहीं किसानों को धान की रोपाई का समय आ गया है और बिजली की आंख मिचोली के चलते किसान हैरान व परेशान है। यदि जल्द ही ग्रामीण क्षेत्रों में बिजली की व्यवस्था न सही की गयी तो हम सभी लोग उपजिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होगें। जिसकी सम्पूर्ण जिम्मेदारी बिजली विभाग के अधिकारियों की होगी।

रिपोर्ट – राजन प्रजापति

About Samar Saleel

Check Also

व्यवस्था हुई बेहाल, कुपोषण से जंग लड़ रहे 18 हजार नौनिहाल, 17 बच्चे एनआरसी वार्ड में भर्ती

अमरोहा:  कुपोषण को खत्म करने के लिए कई कल्याणकारी योजनाएं धरातल पर बेअसर साबित हो ...