Breaking News

पीएलए सैनिकों ने भड़काने के इरादे से की फायरिंग: भारतीय सेना

भारत-चीन सीमा पर बीती रात भारतीय और चीनी सैनिकों के बीच झड़प हुई। सूत्रों की माने तो इस झड़प के दौरान बॉर्डर पर गोलीबारी भी हुई है। चीन का आरोप है कि भारतीय सेना ने गोली चलाई लेकिन भारतीय सेना ने चीन के इस दावे को झूठा करार दिया है।

भारतीय सेना ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि चीन एलएसी पर खुद फायरिंग करके भारतीय सेना पर आरोप लगा रहा है। भारत ने बयान जारी कर कहा है कि पीएलए के जवानों ने उकसावे की कार्रवाई करते हुए गोली चलाई। सेना का कहना है कि कुछ जगहों पर पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने ही फायरिंग की है।

Loading...

चीनी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने भारत को धमकी दी है कि अगर सीमा पर समझौतों का उल्लंघन किया तो भारत-चीन के बीच हिंसा तय है। सोमवार रात चीनी सेना ने दावा किया कि पैंगोंग झील के दक्षिणी तट पर भारतीय सेना ने वास्तविक नियंत्रण रेखा का उल्लंघन करते हुए चीनी सैनिकों पर फायरिंग की। जिसके जवाब में आज मंगलवार को भारतीय सेना ने बयान जारी कर कहा कि चीनी की सेना ने खुद फायरिंग की और आरोप हम पर लगा रहा है। भारत ने कहा चीन लगातार समझौते का उल्लंघन कर रहा है और आक्रामक रवैया अपना रहा है। जबकि सैन्य, कूटनीतिक और राजनीतिक स्तर पर दोनों देशों के बीच बातचीत जारी है।

भारतीय सेना ने अपने बयान में कहा कि 7 सितंबर 2020 को चीनी सैनिकों ने LAC के पास हमारे एक फॉरवर्ड पोजिशन के नजदीक आने की कोशिश की और जब उसके अपने सैनिकों ने उन्हें रोका तो चीनी सैनिकों ने अपने ही सैनिकों को उकसाने के लिए कुछ हवाई फायरिंग की। इतने उकसावे के बाद भी भारतीय सैनिकों ने बड़ा संयम दिखाया और अपने परिपक्व व्यवहार का परिचय दिया। बयान में आगे कहा गया कि भारतीय सेना शांति और शांति बनाए रखने के लिए प्रतिबद्ध है, हालांकि हर कीमत पर राष्ट्रीय अखंडता और संप्रभुता की रक्षा के लिए भी प्रतिबद्ध है। भारतीय सेना के बयान में कहा गया है कि चीन के वेस्टर्न थिएटर कमांड की तरफ से जारी किया गया बयान उनके अपने लोगों को और अंतररष्ट्रीय समुदाय को गुमराह करने के लिए है।

Loading...

About Samar Saleel

Check Also

बिहार के कद्दावर नेता शरद यादव की हालत नाजुक, वेंटिलेटर पर रखा गया

बिहार के कद्दावर नेताओं में माने जानेवाले लोकतांत्रिक जनता दल के अध्यक्ष शरद यादव की ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *