Breaking News

75 वें स्वतंत्रता दिवस पर देश की बेटियों को मिली बड़ी सौगात, पीएम मोदी ने लाल किले से किया एलान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर कहा कि सरकार गांवों के आठ करोड़ स्वयं सहायता समूहों को अपने प्रोडक्ट देश के अंदर और विदेश में बेचने में मदद करने के लिए एक ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म बना रही है.

प्रधानमंत्री ने अपने भाषण में कहा कि उन्हें लाखों बेटियों के संदेश मिलते थे कि वे सैनिक स्कूल में पढ़ना चाहती हैं। ऐसे में केंद्र सरकार ने मिजोरम के एक सैनिक स्कूल में पहले लड़कियों को एडमिशन देने का प्रयोग भी किया था।

फिलहाल देश में 33 सैनिक स्कूल हैं, जिनमें अब तक केवल लड़के एडमिशन ले सकते थे, लेकिन अब प्रधानमंत्री मोदी ने ऐलान किया है कि देश की बेटियां भी अब सैनिक में प्रवेश कर सकेंगी। स्कूल सैनिक स्कूल सोसायटी द्वारा चलाए जाते हैं जो रक्षा मंत्रालय के प्रशासनिक नियंत्रण में हैं। सैनिक स्कूलों की स्थापना का उद्देश्य छात्रों को कम उम्र से भारतीय सशस्त्र बलों में प्रवेश के लिए तैयार करना है।

देश के 75वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर लाल किले की प्राचीर से बोलते हुए मोदी ने कहा कि भारत को ग्रामीण अर्थव्यवस्थाओं के पुनर्निर्माण के लिए अपनी ऊर्जा को एक साथ खींचना होगा.

ओएनडीसी का उद्देश्य खरीदारों और सेलर्स को डिजिटली विजिबल और ऑपन नेटवर्क के माध्यम से लेनदेन करने में सक्षम बनाना है, चाहे वे किसी भी प्लेटफॉर्म या एप्लिकेशन का इस्तेमाल करें. ओएनडीसी का इनोवेशन और स्केल जरिए रिटेल,फूड, मोबिलिटी आदि में मर्चेंट्स और उपभोक्ताओं को सशक्त बनाने का उद्देश्य है.

About News Room lko

Check Also

योद्धा के टीज़र ने तनुज विरवानी के लुक ने खींचा ध्यान, प्रशंसक काफी उत्साहित

तनुज विरवानी (Tanuj Virwani) एक कारण से देश के सबसे प्रतिभाशाली और बहुमुखी अभिनेताओं में ...