Breaking News

दिल्ली में मिले लालू-मुलायम, लखनऊ तक की सियासत गरमाई

     अजय कुमार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव से ठीक पहले दिल्ली में राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की समाजवादी पार्टी के दिग्गज नेता मुलायम सिंह यादव और अखिलेश यादव के साथ मुलाकात की कुछ तस्वीरें सामने आई है,जिसे स्वयं इन नेताओं द्वारा सोशल मीडिया पर डाला गया है।

इन तस्वीरों के सामने आने से दिल्ली से लेकर लखनऊ तक राजनैतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। सपा मुखिया अखिलेश यादव के ट्विटर हैंडल जारी इन तस्वीरों में नजर आ रहा है कि कैसे दो पार्टियों के दिग्गज नेता बेहद गर्मजोशी से आपस में मिल और बातचीत कर रहे हैं। हालांकि, दोनों नेताओं ने इस बात का खुलासा नहीं किया है कि यह मुलाकात पारिवारिक थी या फिर इस मुलाकात का संबंध अगले वर्ष होने वाले यूपी विधान सभा चुनाव से था। अखिलेश यादव के ट्विटर हैंडल से शेयर की गई एक तस्वीर में लालू यादव सपा संस्थापक मुलायम सिंह से हाथ मिलाते हुए नजर आ रहे हैं, जबकि दूसरी तस्वीर में अखिलेश यादव भी दिखाई दे रहे हैं। तीनों नेता चाय पीते और बातचीत करते हुए नजर आ रहे हैं। इसके साथ ही एक और तस्वीर में लालू-मुलायम सिंह एक दूसरे को हाथ जोड़कर अभिवादन करते दिख।

तीेनों दिग्गजों की ये मुलाकात किस वजह से हुई अभी ये साफ नहीं हुआ है। हालांकि, आगामी यूपी चुनाव से ठीक पहले सामने आई इस तस्वीर से लग रहा कि लालू यादव ने देश की सियासत में अपना पुराना मुकाम हासिल करने की पहल कर दी है, जिसमें वह ‘किंग मेकर’ की भूमिका में हुआ करते थे। लालू यादव कुछ महीने पहले ही चारा घोटाला मामले में जमानत पर छूटे हैं और दिल्ली में बेटी मीसा भारती के घर पर स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं। हालांकि, दिल्ली में रहने के बाद भी उनकी सियासी दांव-पेंच की रणनीति लगातार जारी है। बीते गुरुवार को लालू यादव संसद पहुंचे, वो सदन की कार्यवाही में हिस्सा लेने नहीं बल्कि कोरोना वैक्सीन लगवाने पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने कई मुद्दों पर खुलकर अपनी बात भी रखी थी। यही नहीं बुधवार को आरजेडी नेता की मुलाकात एनसीपी प्रमुख शरद पवार और समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव से भी हुई थी। लालू यादव की बेटी मीसा भारती के आवास पर ये मुलाकात हुई। चारा घोटाले में जमानत मिलने के बाद से आरजेडी मुखिया बेहद सक्रिय हैं। वो एक बार फिर विपक्षी राजनीति की धुरी बनते नजर आ रहे हैं।

उधर, बिहार में भी लालू यादव को लेकर सियासी पारा चढ़ा हुआ। एलजेपी में टूट के बाद लालू यादव के ही इशारे पर पिछले दिनों आरजेडी नेता श्याम रजक ने चिराग पासवान से मुलाकात की थी। इसके अलावा बिहार विधानसभा सत्र के दौरान भी जिस तरह से विपक्ष ने मुद्दों को उठाकर नीतीश सरकार को घेरने की कोशिश की, उसमें भी कहीं न कहीं लालू यादव की रणनीति को ही वजह माना जा रहा है।

About Samar Saleel

Check Also

ब्रिगेडियर नीरज पुनेठा ने 63 यूपी एनसीसी बटालियन का वार्षिक प्रशासनिक निरीक्षण किया

लखनऊ। एनसीसी ग्रुप मुख्यालय लखनऊ के ग्रुप कमांडर ब्रिगेडियर नीरज पुनेठा द्वारा 25 मई 2024 ...